झरिया, जेएनएन। AICC सदस्य संतोष कुमार सिंह ने झरिया में व्याप्त जनसमस्याओं के लिए सांसद, विधायक, महापाैर और उप महापाैर को जिम्मेदार ठहराया है। उन्होंने कहा है कि जनप्रतिनिधियों की विफलता और वादाखिलाफी के कारण झरिया की जनता बदहाल जीवन जीने को मजबूर है। पानी के लिए लोग तरस रहे हैं।

सिंह ने मंगलवार को झरिया के पुराना राजागढ़ भीतर धौड़ा में जन पंचायत लगाकर लोगों की समस्याओं को सुना। उन्होंने कहा कि भाजपा राज में झरिया का विकास रूक गया है। विकास की जगह बात सिर्फ झरिया को उजाड़ने की होती है। देश का सबसे अधिक प्रदूषित शहर में झरिया शामिल है लेकिन जनप्रतिनिधियों को तनिक भी चिंता नहीं है। इस माैके पर झरिया नगर कांग्रेस अध्यक्ष अशोक बर्णवाल, झारखंड प्रदेश कांग्रेस कमेटी के मधुपुर प्रभारी इरफान खान चौधरी, पप्पू सिंह, सूरज वर्मा, उषा रानी, अंगुरा देवी, राधे चौधरी, रौशनी देवी, मनोज चौधरी, कृष्णा मास्टर, मिठू देवी, भूचका देवी, मालती देवी, बेला देवी, सुशीला देवी, संध्या देवी, बबिता देवी, ममता देवी, चंदन बाउरी, रामचरन बाउरी, दूलाल मोदक, बबलू बाउरी, सरिता देवी, भीखन मोदक, चिटू बाउरी, कविता देवी आदि माैजूद थे।

 

Posted By: Mritunjay

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप