धनबाद, जेएनएन। Dhanbad Coronavirus Death Toll कोरोना की दूसरी लहर जिंदगी पर भारी पड़ रही है। यह रोज बड़ी संख्या में लोगों की जान ले रही है। धनबाद में भी जानलेवा साबित हो रही है। पिछले 24 घंटे में सरकारी रिपोर्ट के अनुसार 7 लोगों की माैत कोरोना से हो गई। हालांकि गैर सरकारी आंकड़ा और धनबाद के मरीजों का इलाज के दाैरान बाहर वाले माैत का आंकड़ा जोड़ दें तो यह कहीं ज्यादा है। मरने वाले प्रमुख लोगों में तालडंगा के चिकित्सक डॉ. इम्तियाज और निरसा के प्रसिद्ध शिशू रोग विशेषज्ञ डॉ. वासुदेव सान्याल शामिल हैं।

डॉ. इम्तियाज अहमद का दिल्ली में निधन

चिरकुंडा क्षेत्र के जाने माने होम्योपैथी चिकित्सक डाक्टर इम्तियाज अहमद का बुधवार को दुर्गापुर के एक अस्पताल में इलाज के दौरान हार्ट अटैक से निधन हो गया। वे कोरोना संक्रमित थे। इलाज के दौरान ही उन्हें हार्ट अटैक हुआ। डॉक्टर इम्तियाज की चिकित्सक व समाजसेवी के रूप में ख्याति दूर-दूर तक फैली थी। उन्होंने ब्लड थैलीसीमिया की चिकित्सा में काफी महारत हासिल की थी। प्रत्येक माह में एक बार वे नियमित रूप से दिल्ली और प्रत्येक शनिवार और रविवार को कोलकता जाकर मरीजों का इलाज 15-20 वर्षों तक करते आ रहे थे। उनके निधन से संपूर्ण चिरकुंडा, कुमारधुबी, मैथन , निरसा क्षेत्र में शोक की लहर है। डाक्टर अहमद के असामयिक निधन पर झारखंड प्रदेश कांग्रेस प्रतिनिधि सह निरसा विधान सभा प्रभारी सुधांशु शेखर झा ने गहरा दुख व्यक्त किया है।

डॉ. वासुदेव सान्याल का कोलकाता में निधन

निरसा के पांड्रा गांव निवासी प्रसिद्ध शिशु रोग विशेषज्ञ 85 वर्षीय डॉ. वासुदेव सान्याल उर्फ बीडी सान्याल का आकस्मिक निधन बुधवार की दोपहर कोलकाता में हो गया। वे बीते कई माह से कैंसर बीमारी से जूझ रहे थे और अपने पुत्र इंद्रनील सान्याल के कोलकाता स्थित आवास से इलाज करवा रहे थे। वे अपने पीछे पत्नी व एक पुत्र व एक पुत्री का भरा पूरा परिवार छोड़ गए हैं। बता दें कि, निरसा क्षेत्र में वे शिशु रोग विशेषज्ञ के रूप में बीते 30 वर्षों से बच्चों का इलाज करते आ रहे थे। मार्च 2020 में कोरोना संक्रमण के कारण इलाज करना छोड़ चुके थे और अपने निरसा के आवास को छोड़ पश्चिम बंगाल के आसनसोल में शिफ्ट हो गए थे। उनकी मौत की सूचना पाकर निरसा के प्रबुद्ध वर्ग के लोगों ने शोक संवेदना व्यक्त की है।

बाघमारा के व्यवसायी का हैदराबाद में निधन

बाघमारा क्षेत्र के प्रतिष्ठित व्यवसायी 50 वर्षीय कुमार अनिरूद्ध उर्फ मुन्ना जी का निधन गुरुवार की सुबह हैदराबाद में इलाज के दौरान हो गई। उनकी पांच दिन पूर्व उनकी तबीयत बिगड़ गई थी स्वजनों ने उन्हें हैदराबाद के एक निजी अस्पताल में भर्ती किया। जहां उनका एक पुत्र व एक पुत्री है। जो अपनी मां के साथ हैदराबाद में ही है। उनके निधन की खबर से हरिणा काॅलोनी सहित आसपास के लोगों में शोक फैल गया। अनिरुद्ध के निधन पर बरोरा थाना पुलिस जन सहयोग समिति, लायन्स क्लब बाघमारा, हरिणा व बाघमारा चैंबर ऑफ कॉमर्स के सभी सदस्य सहित उनके साथी मिथिलेश कुमार, नागेंद्र साव, संजय नायक, सोमेन सरकार, सीताराम हेलिवाल, सुशील गुप्ता, विनय पांडेय ने दुःख व्यक्त किया है।