जागरण संवाददाता धनबाद : वैसे तो कोरोना महामारी आम लोगों के साथ-साथ तमाम चीजों को काफी प्रभावित किया है लेकिन इसका सबसे अधिक असर शिक्षण संस्थान तथा छात्र-छात्राओं पर पड़ा है। पूरी शिक्षा व्यवस्था सबसे अधिक प्रभावित हुई हैं। कोरोना के कारण जिले के नौ कस्तूरबा गांधी आवासीय बालिका विद्यालय तथा झारखंड आवासीय बालिका विद्यालय में कक्षा छह मे 500 सीटों पर नामांकन नहीं हो सका है। सत्र 2020-21 के शुरू हुए दो माह से अधिक समय बीत चुका है। नामांकन की प्रक्रिया मे और कितना समय लगेगा और नामांकन पूरा कर बच्चों की ऑनलाइन या ऑफलाइन पढ़ाई कब से होगी इसको लेकर अभिभावक काफी चिंतित है। बताते चलें कि दो कस्तूरबा स्कूलों में 75-75 सीटें तथा शेष सात स्कूलों में 50-50 सीटें हैं। मामले में जिला शिक्षा पदाधिकारी प्रबला खेस ने कहा कि प्रखंड में नामांकन के लिए आवेदन मिल चुका है। किस स्कूल में कितना आवेदन मिला है। इसकी जानकारी मांगी जा रही है। कोरोना वायरस के कारण यह स्थिति उत्पन्न हुई है। हम लोगों का पूरा प्रयास रहेगा कि नामांकन जल्द से जल्द लेते हुए ऑनलाइन पढ़ाई शुरू की जाए। बताते चलें कि जिले के सरकारी स्कूलों में नामांकन प्रक्रिया चल रही है। इसके अलावा अगली कक्षाओं में प्रोन्नत होने वाले छात्रों का भी नामांकन किया जा रहा है। किसी स्कूल में कितने छात्रों का नामांकन हुआ है। इसकी पूरी जानकारी जिला शिक्षा विभाग ने सभी स्कूलों के प्राचार्य, प्रभारी प्राचार्य, आवासीय विद्यालयों के प्राचार्य, सभी वार्डन आदि से जानकारी मांगी गई है। इसके लिए शिक्षा विभाग ने एक सप्ताह का समय दिया है। इस तय समय में सभी स्कूलों को नामांकित छात्रों की सूची जमा करनी है।

Edited By: Atul Singh