धनबाद, जेएनएन : कोविड काल में पटरी से उतरी स्वास्थ्य व्यवस्था को चाक चौबन्द करने के लिए उपायुक्त उमा शंकर सिंह ने शहीद निर्मल महतो मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल में 250 केवीए का जनरेटर व पाॅवर ट्रांसफार्मर लगाने का निर्देश भवन प्रमंडल एवं विद्युत विभाग के कार्यपालक अभियंता को दिया है। जिसे हर हाल में 21 जून तक इंस्टॉल करने का आदेश उपायुक्त ने दिया।

इसकी जानकारी देते हुए उपायुक्त ने बताया कि 250 केवीए का डीजल जनरेटर तथा उतनी ही क्षमता का ट्रांसफार्मर 21 जून तक एसएनएमएमसीएच के कैथ लैब के पास इंस्टॉल किये जाएंगे। सिंज ने कहा कि कैथ लैब के पास पीएम केयर्स फंड से 1000 लीटर प्रति मिनट क्षमता का पीएसए ऑक्सीजन जेनरेशन प्लांट स्थापित किया जा रहा है। प्लांट के सुचारू संचालन के लिए और निर्बाध विद्युत आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए भवन प्रमंडल तथा विद्युत आपूर्ति के कार्यपालक अभियंता को 250 केवीए का डीजल जनरेटर सेट तथा 250 केवीए का ट्रांसफार्मर 21 जून तक इंस्टॉल करने का निर्देश दिया है। ताकि जब ऑक्सीजन की मांग अपने पीक पर हो तो पावर को लेकर किसी भी तरह की परेशानी ना हो।

उपायुक्त ने कहा कि उनका सपना है कि जिले की सरकारी व्यवस्था को इतनी मजबूत कर देनी है कि किसी भी गरीब आदमी को इलाज बिना अपनी जान नहीं गंवानी पड़े।

गौरतलब है कि उपायुक्त के पहल पर शनिवार को हर्ल ने दो ऑक्सीजन प्लांट सदर अस्पताल को कॉरपोरेट रिस्पांसिबलिटी के तहत दिये थे। जिन्हें इस सप्ताह के अंत तक चालू कर दिया जाना है। वहीं 60 मीट्रिक टन क्षमता का एक और ऑक्सीजन प्लांट लगाया जाना है। इन तीनों प्लांट के चालू हो जाने के बाद धनबाद जिला ऑक्सीजन उत्पादन के मामले में पूर्णत: आत्मनिर्भर हो जाएगा। साथ ही जरूरत पड़ने पर बाहर भी आपूर्ति कर सकेगा।

Edited By: Atul Singh