जागरण संवाददाता, धनबाद।  रेलवे ने नये टाइम टेबल को लेकर अब तक आधिकारिक घोषणा नहीं की है। बावजूद ट्रेनों के समय अक्टूबर से बदलना शुरू हो गया है। एक अक्टूबर से संताल की तीन पैसेंजर ट्रेनें नये समय पर चलेंगी। इनमें तीनपहाड़-राजमहल पैसेंजर, राजमहल-तीनपहाड़ पैसेंजर और जमालपुर-साहिबगंज पैसेंजर शामिल हैं। तीनपहाड़-राजमहल पैसेंजर अब आधे घंटे पहले खुलेगी और आधे घंटे पहले पहुंचाएगी। वापसी में राजमहल-तीनपहाड़ पैसेंजर भी आधे घंटे पहले खुलकर आधे घंटे पहुंच जाएगी। जमालपुर-साहिबगंज पैसेंजर आधे घंटे पहले खुलेगी और पांच मिनट लेट से पहुंचेगी।

एक अक्टूबर से प्रभावी टाइम टेबल

  • 03491 तीनपहाड़-राजमहल पैसेंजर
  • तीनपहाड़ - पहले शाम 7:40 अब शाम 7:10
  • राजमहल - पहले रात 8:05 अब शाम 7:35
  • 03492 राजमहल-तीनपहाड़ पैसेंजर
  • राजमहल - पहले रात 8:30 अब रात 8:00
  • तीनपहाड़ - पहले रात 8:55 अब रात 8:25
  • 03432 जमालपुर-साहिबगंज पैसेंजर
  • जमालपुर - पहले शाम 4:30 अब शाम 4:00
  • साहिबगंज - पहले रात 8:25 अब रात 8:30

नोनीहाट में आज से कविगुरु ट्रेन का ठहराव, रेलमंत्री करेंगे वर्चुअल उद्घाटन

नोनीहाट के लोगों की कविगुरु एक्सप्रेस के ठहराव की मांग शनिवार को पूरी होगी। रेलमंत्री अश्विनी वैष्णव दिल्ली से हावड़ा-जमलालपुर कविगुरु एक्सप्रेस के नोनीहाट में ठहराव को आनलाइन हरी झंडी दिखाएंगे। वीडियो संवाद के जरिए ग्रीन सिग्नल दिखाया जाएगा। नोनीहाट स्टेशन पर गोड्डा सांसद डा. निशिकांत दुबे समेत अन्य जनप्रतिनिधि और रेल अधिकारी मौजूद रहेंगे।

नोनीहाट से हावड़ा की यात्रा महज 130 रुपये में

कविगुरु स्पेशल ट्रेन में नोनीहाट से हावड़ा तक की यात्रा चेयर कार में महज 130 रुपये की होगी जबकि एसी चेयरकार में यात्रियों को 465 रुपये देना पड़ेगा। नोनीहाट से वद्र्धमान का किराया चेयरकार में 100 रुपए तो भागलपुर के लिए 65 व जमालपुर के लिए 80 रुपए देना पड़ेगा। शनिवार से नोनीहाट स्टेशन में कविगुरु स्पेशल का ठहराव मिलने से आसपास के यात्रियों को काफी सहूलियत होगी। इलाके के मजदूर काफी संख्या में वद्र्धमान धानकटनी कार्य के लिए जाते हैं। सीमित संसाधन रहने के कारण बस में भेड़-बकरियों की तरह ठूंस कर इन मजदूरों को बंगाल काम करने के लिए ले जाया करते थे। जिनसे अब मजदूरों को मुक्ति मिलेगी। साथ ही कोलकाता से हवाई जहाज पकडऩे या हावड़ा जाकर दूसरी ट्रेन पकडऩे वाले यात्रियों को भी अब नोनीहाट से ट्रेन मिल जाएगी।

छह महीने के ट्रायल पर मिली ठहराव को मंजूरी

03015 हावड़ा-जमालपुर कविगुरु एक्सप्रेस और 03016 जमालपुर-हावड़ा कविगुरु एक्सप्रेस के ठहराव को छह महीने के ट्रायल के तौर पर मंजूरी दी गई है। रेलवे बोर्ड ने टिकटों की बुकिंग की निगरानी का आदेश भी दिया है। टिकटों की बुकिंग से होनेवाली आमदनी का ब्योरा 25 फरवरी 2022 तक रेलवे बोर्ड को सौंपा जाएगा। अगर मुनाफा के लिहाज से अच्छा रहा तो ट्रेन के फेरे में बढ़ोतरी का निर्णय होगा। यात्री नहीं मिले तो छह महीने बाद ठहराव वापस भी लिया जा सकता है।

Edited By: Mritunjay