दुमका, जेएनएन। Ranchi Love Story प्यार का नशा ऐसा ही होता है। जब यह चढ़ता है तो किसी की भी बात सुहाती नहीं है। प्रेमी-प्रेमिका माता-पिता, घर-बार, धर्म और समाज का बंधन तोड़ डालते हैं। अब रांची के नामकुम की युवती को ही लीजिए। वह अपने प्रेमी को पाने के लिए घर-परिवार को छोड़ रांची से दुमका पहुंच चुकी है। स्वजन उसके जान के पीछे पड़े हैं। फिर भी उसे परवाह नहीं है। वह प्यार को पाने के लिए अपने प्रेमी के साथ दुमका थाने में डेरा डाल दिया है। इस पूरी कहानी में एक लोचा है। प्रेमिका तो बालिग है लेकिन प्रेमी की उम्र अभी शादी करने लायक नहीं है। इसके बावजूद प्रेमिका अड़ गई है। इस प्रेम कहानी को दुमका पुलिस पटाक्षेप में करने में लगी है। 

इस तरह हुआ प्यार  

छह माह पहले फोन पर हुई दोस्ती इतनी गहरी हो गई कि रांची के नामकुम में रहने वाले युवती शनिवार को घर-बार छोड़कर सीधे प्रेमी से शादी करने के लिए दुमका पहुंच गई। मामला दो धर्म से जुड़ा होने के कारण दोनों सुरक्षा के लिए थाना पहुंच गए। युवती के स्वजन को सारी जानकारी दी गई। परिजन भी थाना पहुंच गए। मामले में शनिवार की देर शाम तक किसी तरह का फैसला नहीं हो सका। फोन पर प्यार भी क्रास कनेक्शन के दाैरान हुआ। युवती ने कहीं और फोन किया और लग गया दुमका के युवक को। फिर क्या दोनों फोन पर शुरू हो गए। 

प्रेमिका 22 और प्रेमी 20 के

22 वर्षीय युवती ने बताया कि वह मुस्लिम धर्म को मानती है और छह माह पहले दुमका के बांधपाड़ा के दूसरे धर्म के युवक से गलत नंबर डायल होने के कारण दोस्ती हो गई। इसके बाद फोन पर बात होने लगी। वीडियो कॉलिंग से बात करते-करते दोनों शादी के लिए तैयार हो गए। जब यह बात युवती के स्वजनों को पता चली तो उन्होंने इसका विरोध किया। शनिवार की सुबह युवती बस पकड़ कर सीधे दुमका बस स्टैंड पहुंच गई। यहां आने के बाद प्रेमी को फोन किया। प्रेमी को भरोसा नहीं हुआ तो उसने वीडियो कॉल किया। इसके बाद वह युवती से मिला और सीधे नगर थाना पहुंच गया। युवती ने बताया कि वह बालिग है उसका प्रेमी अभी 20 साल का है लेकिन वह उसी से शादी करना चाहती है। लड़के लिए शादी की उम्र 21 वर्ष होनी चाहिए। युवक के स्वजन भी इस रिश्ते के लिए तैयार हो गए लेकिन प्रेमी की उम्र शादी में बाधक है।

प्रेमिका के स्वजनों की उपस्थिति में हुई पंचायती में नहीं बनी बात

एसडीपीओ नूर मुस्तफा ने भी दोनों से बात की और समझाया, लेकिन युवती शादी के लिए अड़ी रही। देर शाम को युवती के परिजन भी थाना पहुंच गए। देर शाम तक दोनों पक्ष में बात ही चल रही थी। पुलिस की उपस्थित में पंचायती हुई लेकिन बात नहीं बनी। थाना प्रभारी देवव्रत पोद्दार ने बताया कि दोनों पक्षों की सहमति के बाद ही किसी तरह का निर्णय लिया जाएगा।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021