धनबाद, जेएनएन। 25 जनवरी को राष्ट्रीय मतदाता दिवस है। इस दिन हर साल राष्ट्रीय मतदाता दिवस मनाया जाता है। जिला और प्रखंड स्तर पर खास आयोजन होता है। 18 वर्ष पूरे करने पर मतदाता सूची में नाम दर्ज कराने वाले नए मतदाताओं को मतदाता पहचान पत्र ( Voter Identity Card) दिया जाता है। लोकतांत्रिक मूल्यों की रक्षा के लिए शपथ दिलाई जाती है। इस साल पर राष्ट्रीय मतदाता दिवस पर धनबाद जिले में कार्यकर्मों की तैयारी चल रही है। जिले में सभी छह विधानसभा क्षेत्रों में आम नागरिकों, मतदाताओं और सरकारी कर्मियों के लिए राष्ट्रीय मतदाता दिवस मनाने की तैयारी चल रही है। जिला निर्वाचन आयोग सभी को न्यौता दे रहा है। उप निर्वाचन पदाधिकारी मृत्युंजय पांडे का कार्यालय आमंत्रण कार्ड पहुंचाने में जुटा हुआ है।  

धनबाद क्लब में होगा मुख्य मुख्य आयोजन

धनबाद क्लब में मुख्य कार्यक्रम रखा गया है। सुबह 10 बजे कार्यक्रम की शुरुआत होगी। शाम पांच बज तक मतदाताओं को ये मुख्य शपथ दिलाई जाएगी।

  • नए मतदाता इन छह चीजों पर देंगे ध्यान
  1. नए पंजीकृत मतदाता लोकतांत्रिक परंपरा की मर्यादा को बनाने संबंधी प्रतिज्ञा लेंगे।
  2. अहर्ता प्राप्त नागरिक जो 1.1.2021 को 18 वर्ष या उससे अधिक उम्र के हो गए हैं, और मतदाता नहीं बन सके हैं, अपना दावा पत्र प्रपत्र-6 में बीएलओ को दे सकते हैं।
  3. सभी कार्यालय प्रधान कर्मियों को इस दिन शपथ ग्रहण दिलाएंगे।
  4. सभी शैक्षणिक संस्थानों में यह दिवस मनाया जाएगा। प्रधानाध्यापक विद्यालयों में इसकी अध्यक्षता करेंगे।
  5. ई-ईपिक कार्यक्रम से नए मतदाता उसे डाउनलोड कर सकते हैं।

25 जनवरी, 2021 को 11 वां राष्ट्रीय मतदाता दिवस 

भारत निर्वाचन आयोग पूरे देश में इस बार 11 वां राष्ट्रीय मतदाता दिवस 25 जनवरी को सेलीब्रेट करेगा। वर्ष 1950 से स्थापित चुनाव आयोग के 61वें स्‍थापना वर्ष पर 25 जनवरी 2011 को तत्कालीन राष्ट्रपत‌ि प्रतिभा देवी सिंह पाटिल ने ‘राष्ट्रीय मतदाता दिवस’ का शुभारंभ किया था। इस आयोजन के दो प्रमुख विषय थे, ‘समावेशी और गुणात्मक भागीदारी’।

यह भी जानें 

राष्ट्रीय मतदाता दिवस प्रत्येक वर्ष 25 जनवरी को मनाया जाता है। विश्व में भारत जैसे सबसे बड़े लोकतंत्र में मतदान को लेकर कम होते रुझान को देखते हुए राष्ट्रीय मतदाता दिवस मनाया जाने लगा था। इसके मनाए जाने के पीछे निर्वाचन आयोग का उद्देश्य था कि देश भर के सभी मतदान केंद्र वाले क्षेत्रों में प्रत्येक वर्ष उन सभी पात्र मतदाताओं की पहचान की जाएगी, जिनकी उम्र एक जनवरी को 18 वर्ष हो चुकी होगी। इस सिलसिले में 18 वर्ष या उससे अधिक उम्र के नए मतदाताओं के नाम मतदाता सूची में दर्ज किए जाएंगे और उन्हें निर्वाचन फोटो पहचान पत्र सौंपे जाएंगे। पहचान पत्र बांटने का काम सामाजिक, शैक्षणिक व गैर-राजनीतिक व्यक्त‌ि करेंगे। इस मौके पर मतदाताओं को एक बैज भी दिया जाएगा, जिसमें लोगो के साथ नारा अंकित होगा 'मतदाता बनने पर गर्व है, मतदान को तैयार हैं।'

11 वां राष्ट्रीय मतदाता दिवस बहुत खास

यह राष्ट्रीय मतदाता दिवस बहुत खास है। भारत निर्वाचन आयोग का काम पूरी तरह से डिजिटल प्लेटफार्म पर आ रहा है। इसके लिए चुनाव आयोग की तरफ से 25 जनवरी को e-EPIC मोबाइल एप लांच किया जा रहा है। इसके माध्यम से मतदाता अपने पहचान पत्र को मोबाइल के माध्यम से डाउनलोड कर सकते हैं। साथ ही 1 फरवरी, 2021 से इस एप के माध्यम से मतदाता पहचान पत्र भी बनाया जा सकता है। इसका सबसे बड़ा फायदा यह होगा कि मतदाता सूची में नाम दर्ज कराने के लिए सरकारी कार्यालयों का चक्कर नहीं लगाना पड़ेगा। कोई भी भारत का नागरिक जो मतदाता बनने की योग्यता रखता है, e-EPIC एप के माध्यम से मतदाता पहचान पत्र बनाने के लिए आवेदन कर सकता है। 

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप