धनबाद, जेएनएन। पीएमसीएच के आइसोलेशन वार्ड में रह रहे धनबाद कोर्ट के अधिवक्ता ललन गुप्ता ने अपना एक वीडियो वॉयरल किया है। इसमें उन्होंने आत्महत्या करने की धमकी दी है। अधिवक्ता ने बताया है कि अगर वे आत्महत्या करते हैं तो जिम्मेदार वे सभी लोग होंगे जो उन्हें प्रताडि़त कर रहे हैं। दरअसल, 30 जून को कोरोना संक्रमित बंधन बैैंक की महिला कर्मी के साथ उनकी कांटेक्ट हिस्ट्री होने पर न्यायलय में खलबली मच गई थी। इस पर बार एसोसिएशन ने प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग को उनका स्वाब जांच लेने का आग्रह किया था। अधिवक्ता का सदर अस्पताल में स्वाब लेने के बाद उन्हें पीएमसीएच में रखा गया था। हालांकि, रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद भी उन्हें नहीं छोड़ा गया।

अधिवक्ता ने वीडियो में कहा है कि वे बार बार न्यायलय के निबंधक, बार के अध्यक्ष और महासचिव समेत कई वरीय अधिवक्ताओं से संपर्क कर रहे हैैं। उन्हें डिस्चार्ज नहीं किया जा रहा है। इस कारण वे तनाव में हैं। नींद भी नहीं आ रही है। घर वाले परेशान हैं। उन्होंने कहा कि आइशोलेशन वार्ड में अव्यवस्था का आलम है। बिजली नहीं रहती। खाना नहीं मिल रहा। गंदगी का अंबार है। इससे अच्छा तो मुझे धनबाद जेल में डाल दिया जाए। वीडियो के साथ ही अधिवक्ता ने वाट्सअप संदेश भी वॉयरल किया है।

बार ने डीसी-एसएसपी को लिखा पत्र
अधिवक्ता ललन गुप्ता का वीडियो वॉयरल होने पर गुरुवार को दिन भर न्यायलय में चर्चा होती रही। बार एसोसिएशन हरकत में आया। अध्यक्ष राधेश्याम गोस्वामी और महासचिव देवी शरण सिन्हा ने डीसी अमित कुमार को पत्र लिखकर अधिवक्ता के वीडियो का हवाला देते हुए कहा है कि अगर डॉक्टर एडवाइस करते हैैं तो उन्हें होम क्वारंटाइन किया जा सकता है। वहीं, एक पत्र एसएसपी अखिलेश बी वारियर को भी लिखा गया है, जिसमें कहा गया है कि उनपर कार्रवाई की जाए क्योंकि वे धमकी दे रहे हैैं।

हावड़ा-जोधपुर ट्रेन से कोरोना संक्रमित मरीज पहुंचा धनबाद
कोलकाता में चूड़ी का कारोबार करने वाले कोरोना संक्रमित वृद्ध को धनबाद लाया गया। गुरुवार सुबह हावड़ा-जोधपुर  एक्सप्रेस से आए वृद्ध को धनबाद स्टेशन से डॉक्टरों की टीम ने सेंट्रल अस्पताल भेजा। गांधीनगर में रहनेवाले उनके परिजनों को भी सदर अस्पताल लाया गया। सभी का स्वाब लेकर उन्हें अस्पताल में क्वारंटाइन किया गया है। संक्रमित व्यक्ति कितने लोगों के संपर्क में आए हैं, उसकी जानकारी ली जा रही है। हालांकि, बताया जाता है कोलकाता से पिछले दिनों लौटने के बाद घर के लोगों ने वृद्ध को कोरोना जांच कराने के लिए सदर अस्पताल भेजा था। वहां पर जांच के बाद डाक्टरों ने उन्हें होम क्वारंटाइन में रहने को कहा था। बुधवार को उसकी रिपोर्ट पाजिटिव आ गयी। फ ोन करने पर पता चला कि वे कोलकाता चले गए हैं। इसके बाद उन्हें फिर बुलाया गया। गुरुवार सुबह वृद्ध हावड़ा-जोधपुर ट्रेन से धनबाद पहुंचे। कोलकाता पुलिस ने सूचना के बाद संक्रमित को हावड़ा स्टेशन तक पहुंचाया। सिविल सर्जन डॉ. गोपाल दास ने बताया कि वृद्ध अपने घर गाधीनगर भी आया जाया करता था। पॉजिटिव रिपोर्ट मिलने के बाद उसे रेलवे की मदद से हावड़ा-जोधपुर एक्सप्रेस से उसे धनबाद लाया गया है। इसमें पूरी एहतियात बरती गई।

Posted By: Mritunjay

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस