गलफरबाड़ी : ईसीएल राजपुरा कोलियरी की मोहुलबना कॉलोनी में जलसंकट थमने का नाम नहीं ले रहा है। एक महीना पहले बिजली की कमी से कॉलोनी में एक सप्ताह जलापूर्ति बाधित रही थी। बिजली की कमी दूर हुई तो पाइप चोरी हो गई है। इस कारण 21 दिनों से कॉलोनी में जलापूर्ति बाधित है। चोर सौ फीट पाइप काट कर ले गए हैं जिससे कॉलोनी वासियों को जलसंकट का सामना करना पड़ रहा है। राजपुरा कोलियरी से मोहुलबना कॉलोनी को जलापूर्ति होती है। लेकिन 21 दिनों के अंदर तीन बार पाइप व वेल चोरी हो गई है। चोरों ने पहले 60 फीट पाइप को काट डाला। एक सप्ताह बाद फिर 40 फीट पाइप को काट ले गए। उसके बाद वेल सिस्टम ही चुरा ले गए हैं। इससे कॉलोनी में जलापूर्ति नहीं हो पा रही है। लोग टैंकर से पानी मंगाकर किसी तरह काम चला रहे हैं। कॉलोनी में तीन सप्ताह से जलापूर्ति बाधित है। पानी नहीं चलने से काफी परेशानी उठानी पड़ रही है। कोलियरी प्रबंधन जलापूर्ति की व्यवस्था करवाए।

- मनोज कुमार, मोहुलबना जलापूर्ति ठप रहने से पानी का जुगाड़ करना पड़ रहा है। आसपास के घर मिलाकर टैंकर से पानी खरीद रहे हैं। जितना दिन पानी नहीं चला उसका पैसा नहीं काटा जाए।

जोगिदर सिंह, मोहुलबना कॉलोनी वासी टैंकर से पानी खरीद कर अपना काम कर रहे है। जलापूर्ति नहीं होने की शिकायत करने पर कार्रवाई नहीं होती है। प्रबंधन कॉलोनी में जलापूर्ति की व्यवस्था करवाए।

उमेश पासवान, मोहुलबना

वर्जन : पाइप चोरी के बाद नई पाइप लगाने की कार्रवाई की जा रही है। पाइप लगाने में सहयोग को स्थानीय मुखिया से बात हो गई है। जल्द ही समस्या का समाधान हो जाएगा।

रामबाबू सिंह, प्रबंधक, राजपुरा कोलियरी

----------------

बॉक्स :

मैथन से पांच दिनों से जलापूर्ति ठप

मैथन : मिलेनियम पार्क के पास पेयजल विभाग का क्षतिग्रस्त पाइप अभी तक पूरी तरह से ठीक नहीं हो पाया है। क्षतिग्रस्त पाइप को बदलकर नया लगाया जा रहा है। इसके कारण मैथन के मेढ़ा समेत एक दर्जन गांवों में जलापूर्ति ठप है। पांच दिनों से जलापूर्ति नहीं होने से लोगों को बड़ा जलसंकट का सामना करना पड़ रहा है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस