साहिबगंज/बोरियो, जेएनएन। फिरौती न मिलने तथा पुलिस दबिश से परेशान अपहर्ताओं ने शनिवार की रात बोरियो से अपह़ृत अरुण कुमार साह की हत्या गोली मार कर कर दी। रविवार की सुबह मवेशी चराने निकले कुछ लोगों ने तेलाे पंचायत के बरमसिया मैदान में एक शव देखा तथा स्थानीय मुखिया लुकस हांसदा को इसकी सूचना दी। मुखिया ने बोरियो थाना प्रभारी धनपति लोहरा को इसकी जानकारी दी। सूचना मिलने पर एसपी अनुरंजन क्रिस्पोट्टा व एसडीपीओ विजय आशीष कुजूर दल-बल के साथ पहुंचे। इस दौरान वहां पहुंचे अरुण कुमार साह के भाई मिथुन साह एवं भतीजे रोहित साह ने शव की शिनाख्त की। शव मुंह के बल पड़ा हुआ था। आंख बंधा हुआ हुआ।

 

घटना स्थल पर पहुंचने के बाद एसपी ने डॉग स्वायड को बुलाने का निर्देश दिया। तय हुआ कि तब तक कोई व्यक्ति शव को नहीं छुएगा। कुछ ही देर बाद जोरदार बारिश होने लगी। इसके बाद पंचनामा बनाकर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया। घटनास्थल पर मौजूद आसपास के लोगों ने बताया कि रात करीब 12.40 बजे गोली चलने की आवाज सुनाई दी। शव के पास एक गोली भी बरामद किया गया है।

यह भी पढ़ें- Sahebganj: बोरियो के अनाज व्यवसायी का अपहरण, 30 लाख फिराैती नहीं देने पर हत्या की धमकी

20 जून को बोरियो थाना रोड निवासी अरुण कुमार साह राजमहल जमीन जाने की बात कह कर सुरेंद्र सोरेन के साथ निकले थे। रास्ते में मुनी बेसरा नामक महिला का फोन आया। इसके बाद वे राजमहल न जाकर कहीं और चले गए। शनिवार की रात में अरुण साह के मोबाइल से ही उनकी पत्नी पुतुल देवी के मोबाइल पर कॉल आया तथा फिरौती के रूप में 30 लाख रुपया मांगा गया। परिजनों ने इसकी सूचना पुलिस को दी। अगले दिन प्राथमिकी दर्ज कर पुलिस ने उनकी खोजबीन शुरू की। इस दौरान पता चला कि गोबरी गांव की पूजा उर्फ मरांगमय भी गायब है। तब से पुलिस लगातार खोजबीन में जुटी थी।

27 जून को अपहर्ताओं के बरहेट के बोरबांध में छिपे होने की जानकारी मिली। इसके बाद पुलिस ने वहां धावा बोला। इसी क्रम में अपराधियों ने गोली चला दी जो बरहेट थाने के एएसआइ चंद्राय सोरेन के पेट में लगी। अपराधियों ने बरहेट थाना प्रभारी हरीश पाठक को भी पिस्तौल के बट से मारकर घायल कर दिया। अन्य पुलिस कर्मियों को आते देख सभी अपराधी बाइक छोड़कर भाग गए। तीन बाइक वहां से बरामद की गई। आशंका जतायी जा रही है कि जहां गोलीबारी हुई वहीं अपहरणकर्ता अरुण कुमार साह को रखे हुए थे। गोलीबारी के बाद पुलिस ने शनिवार को घटनास्थल के आसपास सर्च अभियान चलाया लेकिन सफलता नहीं मिली। उधर, पुलिस से घिरते देखकर अपहर्ता उसे लेकर भाग गए और रात में बरमसिया मैदान में ले जाकर गोली मार दी।।

 

Posted By: Mritunjay

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस