धनसार : बिजली कटौती से नाराज हल्दी पट्टी के लोगों ने मंगलवार को भी चांदमारी-बेरा मार्ग को जाम कर दिया। इससे वाहन में बारूद ढुलाई का काम घंटों ठप रहा। सूचना पाकर धनसार पुलिस व बस्ताकोला प्रबंधन मौके पर पहुंचा। गुस्साए लोगों ने बस्ताकोला एपीएम तेजिदर सिंह को एक घंटा तक बंधक बनाए रखा। हालांकि वार्ता करने की पहल करने पर एपीएम मुक्त हुए। बाद में बस्ताकोला कोलियरी कार्यालय में वार्ता हुई। वार्ता विफल होने के बाद लोगों ने शंकर चौधरी के नेतृत्व में चांदमारी इंकलाइन का कोयला उत्पादन ठप कर दिया। लोगों का कहना था कि जब तक हमलोगों को बिजली नहीं मिलेगी। आंदोलन जारी रहेगा। वहीं बिजली जोड़ने को लेकर हल्दी पट्टी और चांदमारी आठ नंबर बस्ती के लोगों के बीच तनाव है। हल्दी पट्टी के लोग बिजली आपूíत की मांग कर रहे हैं। वहीं आठ नंबर के लोग इस ट्रांसफार्मर से बिजली नहीं जोड़ने का ऐलान किया है। चांदमारी आठ नंबर के लोगों का कहना है कि हल्दी पट्टी के लोग अनाधिकृत रूप से बिजली जोड़ लिया है। इसके चलते हमेशा ट्रांसफार्मर जल जाता है। यहां के लोगों को दिक्कत होती है। हल्दी पट्टी के लोगों का नेतृत्व कर रहे हैं शंकर का कहना है कि कुछ लोग अपने स्वार्थ में यहां के लोगों को बिजली नहीं जोड़ने दे रहे हैं। जब तक बिजली नहीं मिलेगी। आंदोलन जारी रहेगा। बिजली विवाद को लेकर दोनों बस्ती के लोग अपने-अपने क्षेत्र में लाठी, डंडा लेकर तैयार है। दोनों पक्षों ने प्रबंधन के खिलाफ नारेबाजी की। मालूम हो कि सोमवार को भी बिजली आपूíत की मांग को लेकर हल्दी पार्टी के लोगों ने बेरा-चांदमारी मुख्य मार्ग जाम कर दिया था।

..

अनाधिकृत लोगों को बिजली देना बीसीसीएल के बस की बात नहीं है। उच्च धिकारियों से बात कर इसका निदान निकाला जाएगा।

-अजय भुईयांन, प्रबंधक बस्ताकोला

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस