धनबाद, जेएनएन। नागरिकता कानून (CAA) पर केंद्र सरकार तानाशाह हो गई है। यह महज मुस्लिमों के लिए नहीं बल्कि पिछड़े, दलितों व शोषितों के हक की लड़ाई बन गयी है। केंद्र की भाजपा सरकार देश को तोडना चाह रही है। लोगों के आवाज को दबा रही है। उक्त बातें मशहूर शायर, लेखक, साहित्यकार मुनव्वर राणा की बेटी फौजिया राणा ने कही। वह नागरिकता कानून के विरोध में वासेपुर में चल रहे अनिश्चितकालीन धरना को बतौर मुख्य अतिथि संबोधित कर रही थी।

फौजिया ने कहा कि हमारी लड़ाई तब तक चलती रहेगी, जब तक कि मोदी सरकार इस काले कानून को वापस नहीं ले लेती है। इस दौरान उन्होंने मोदी एवं यूपी के योगी सरकार पर जमकर निशाना साधा। अल्पसंख्यकों के ऊपर की जा रही ज़्यादतियों की भी निंदा की। कार्यक्रम का सामापन राष्ट्रीय गीत से हुआ। बता दें कि वासेपुर में नागरिकता कानून के विरोध का मंगलवार 48वां दिन था।

हेमंत सरकार का शुक्रियादा : फ़ौजिया ने कहा कि मोदी सरकार के तानाशाह से प्रेरित इस काले कानून को वापस लेना ही होगा। धनबाद में सात नामजद और 3000 अज्ञात निर्दोष लोगों पर से राजद्रोह की धारा हटाने के आदेश के लिये झारखंड के हेमंत सरकार का शुक्रियादा किया। कहा कि इस फर्जी व बेबुनियाद मुकदमा को पूरी तरह से वापस लेना चाहिये।

Posted By: Sagar Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस