गोविंदपुर, जेएनएन। गोविंदपुर ऊपर बाजार मोड़ में बुधवार सुबह एक हाइवा चालक ने फाइनेंस कंपनी के लिए वसूली करने वाले अमलाटांड़ निवासी बाइक सवार इक्कीस वर्षीय दो युवकों को कुचल दिया। दोनों युवकों ने हाइवा को ओवरटेक कर रोकने की कोशिश की। तभी उसने उन पर वाहन चढ़ा दिया।

युवक ओम रजक की मौके पर और शमशाद अंसारी की पीएमसीएच में मौत हो गई। करीब एक किमी तक हाइवा इस बाइक को घसीटते ले गया। हाइवा चालक को स्थानीय युवकों ने खदेड़ कर पकड़ा और उसकी जमकर पिटाई कर दी। स्थानीय ग्रामीणों ने मशक्कत के बाद उसे बचाया। दो घंटे की मशक्कत के पुलिस हाइवा चालक को हिरासत में ले सकी। मुआवजे की मांग कर आक्रोशित लोगों ने गोविंदपुर थाना का भी घेराव किया। माना जा रहा है कि दोनों युवक लोन वसूली के लिए हाइवा को रोक रहे थे। 

यह है मामला

नगर कियारी शिमलाटांड़ निवासी हाइवा चालक रंजीत राय हाइवा संख्या जेएच 10 एवाई-2589) से गोविंदपुर बाजार की ओर सेआ रहा था। फाइनेंस कंपनी के लिए वसूली करने वाले एजेंट नजरूल अंसारी के कर्मी ओम रजक और शमशाद पल्सर बाइक से लाल बाजार से हाइवा का पीछा कर रहे थे। ऊपर बाजार मोड़ उसे रोकने की कोशिश की। बावजूद हाइवा चालक न  वाहन नहीं रोका और उनकी बाइक पर चढ़ा दिया। ओम ने तुरंत ही दम तोड़ दिया। गंभीर रूप से जख्मी शमशाद अंसारी को पीएमसीएच ले जाया गया, उसे भी बचाया नहीं जा सका। इस घटना से भड़के दर्जनों स्थानीय युवकों ने बाइक से हाइवा का पीछा किया। यह देख रंजीत नगरकियारी गांव की ओर भाग निकला। वहां गाड़ी खड़ी कर पंचायत सचिवालय में घुस गया। आक्रोशित युवक भी पहुंच गए और उसे पकड़कर पिटाई शुरू कर दी। हाइवा जलाने की कोशिश भी की। तब तक कई गांव वाले आ गए। उन्होंने युवकों को समझाकर हाइवा में आग नहीं लगाने दी, रंजीत को बचाया। 

चालक को पंचायत भवन में किया बंद

मुखिया श्यामल चक्रवर्ती व ग्रामीणों ने चालक को पंचायत भवन के अंदर बंद कर बाहर से ताला लगा दिया। ताकि वह सुरक्षित रहे। युवकों ने पंचायत सचिवालय में तोडफ़ोड़ की भी कोशिश। पुलिस को चालक को हिरासत में लेने के लिए दो घंटे तक की मशक्कत करनी पड़ी। धनबाद के डीएसपी विधि व्यवस्था मुकेश कुमार, डीएसपी मुख्यालय टू हीरामन चंद्र मांझी, गोङ्क्षवदपुर इंस्पेक्टर रंधीर कुमार नगरकियारी पहुंचे। हाइवा चालक को अपने साथ बरवाअड्डा थाना ले गए। 

क्षेत्र में किसी भी हालत में फाइनेंस कंपनी के एजेंट को वाहनों की धरपकड़ करने नहीं देंगे। यदि ऐसा कहीं होता है तो तुरंत सूचना पुलिस को दें, तत्काल वैसे लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेजा जाएगा। इस मामले की छानबीन कर रहे हैं। 

-रंधीर कुमार, थाना प्रभारी, गोविंदपुर 

Posted By: Mritunjay

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस