धनबाद, जेएनएन। झारखंड विकास मोर्चा (प्रो) के अध्यक्ष बाबूलाल मरांडी की भाजपा में घर वापसी होने जा रही है। मई,  2006 में मरांडी ने भाजपा से नाता तोड़ लिया था। तबसे वे झारखंड विकास मोर्चा (प्रो) बनाकर झारखंड की सत्ता की राजनीति में वापसी के लिए कवायद कर रहे थे। इसमें सफलता नहीं मिलने के बाद बाबूलाल ने अपने पुराने घर में ही 14 साल बाद लाैटने का फैसला कर लिया है। 17 फरवरी को बाबूलाल भाजपा में शामिल होंगे। भाजपा में शामिल होने के बाद बाबूलाल की भूमिका भी तय हो गई है।

भाजपा सूत्रों के अनुसार बाबूलाल को झारखंड विधानसभा में भाजपा विधायक दल का नेता बनाया जाएगा। मरांडी विधानसभा सदस्य हैं। वे गिरिडीह जिले के धनवार विधानसभा क्षेत्र से निर्वाचित हुए हैं। मरांडी ने 8 फरवरी को दिल्ली में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष ओम माथूर से मुलाकात कर भाजपा में शामिल होने के प्लान को अंतिम रूप दिया। इसके अगले दिन मरांडी ने भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा से मिलकर प्लान के क्रियान्वयन पर विचार-विमर्श किया। बाबूलाल मरांडी फिलहाल भाजपा में शामिल होकर बगैर कोई पद लिए ही कार्य करना चाहते हैं। लेकिन, भाजपा का दवाब है कि वे विधानसभा में विरोधी दल के नेता की भूमिका का निर्वहन करें। भाजपा ने विधानसभा में अब तक किसी को विधायक दल का नेता नहीं बनाया है। संभावना व्यक्त की जा रही है कि भाजपा में शामिल होने के कुछ दिनों बाद विधायक दल की बैठक होगी। उसमें सर्वसम्मति से बाबूलाल के विधायक दल के नेता बनाने की घोषणा कर दी जाएगी। 

सूत्रों के अनुसार 17 को रांची में मिलन समारोह का आयोजन किया जाएगा। इस समारोह में मरांडी भाजपा में शामिल होंगे। इस माैके पर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा उपस्थित रहेंगे। कार्यक्रम आयोजन की जिम्मेवारी भाजपा की होगी। कार्यक्रम में जाकर बाबूलाल भाजपा में शामिल होने की घोषणा करेंगे। हालांकि अभी कार्यक्रम स्थल फाइनल नहीं हुआ है। पहले मोरहाबादी मैदान में कार्यक्रम करने की बात थी लेकिन वह खाली नहीं है। प्रभात तारा मैदान या हरमू मैदान में से किसी एक में कार्यक्रम करने की तैयारी में भाजपा जुट गई है। 

Posted By: Mritunjay

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस