चासनाला : सुदामडीह एएसपी कोलियरी की महत्वाकांक्षी परियोजना फायर पैच को चालू करने व इससे प्रभावित परिवारों के पुनर्वास को लेकर प्रबंधन व नेताओं में विवाद जारी है। चौथे दिन रविवार को परियोजना विस्तारीकरण के लिए सड़क निर्माण कार्य बंद रहा। विवाद को सुलझाने के लिए सुदामडीह थाना में प्रशासन ने वार्ता की पहल की। नेतृत्व सिदरी के डीएसपी एके सिन्हा ने किया। ईजे एरिया के जीएम जीसी साहा, वार्ड 52 की पार्षद प्रियंका देवी, ट्रेड यूनियन के नेता व प्रभावित परिवार मौजूद थे। वार्ता के दौरान काफी हो हंगामा के साथ हाई वोल्टेज ड्रामा हुआ। विस्थापित परिवार दो गुट में बंट गए। एक गुट ने प्रबंधन का समर्थन दिया। वहीं दूसरा गुट पार्षद के साथ होकर वार्ता बीच में ही छोड़कर चला गया। वार्ता के दौरान लोगों ने अपनी-अपनी समस्या रखीं। कुछ विस्थापितों का कहना था कि जिस तरह हमारी झुग्गी झोपड़ी बनी हुई है। उसी तरह प्रबंधन बना कर हमें दें। जबकि कुछ लोगों का कहना है कि प्रबंधन हमें मुआवजा देकर बसाने का काम करें। वार्ता में सिदरी के डीएसपी एके सिन्हा, सुदामडीह थाना प्रभारी विनय कुमार, ईजे एरिया जीएम जीसी साहा, जयंत कुमार, पीओ सत्येंद्र कुमार, प्रबंधक डीके सिन्हा, पार्षद प्रियंका देवी, अभिषेक सिंह, संजय सिंह, फूलबदन धोबी, मुन्ना सिंह, सुभाष तिवारी, पहलवान सिंह, सुभाष सिंह, राजेश सिंह, भोजू रवानी, ममता सिंह, सन्यासी नायक, राजकुमार रवानी, गौरी शंकर रवानी, प्रेम तिवारी आदि थे।

..

प्रबंधन ने विस्थापितों को 20 हजार देने पर जताई सहमति :

वार्ता के दौरान सुदामडीह प्रबंधन की ओर से मुंडा बस्ती की लिस्ट जारी की है। इसमें लगभग 47 विस्थापितों को सूचीबद्ध किया गया है। मुंडा बस्ती के कुछ विस्थापित मोहलबनी मांझी बस्ती में अपना घर भी बनाना शुरू कर दिये हैं। प्रबंधन ने कहा कि जिन विस्थापितों के नाम सूची में छूट गया है। उसकी जांच कर नाम लिस्ट में चढ़ाया जाएगा। प्रभावित परिवार के बैंक खाते में 20 हजार की राशि सीधे भेजी जाएगी।

..

डीएसपी ने आक्रोशित महिलाओं को किया शांत :

वार्ता के दौरान दोनों पक्ष की महिलाओं को शांत करने के लिए सिदरी के डीएसपी एके सिन्हा, ईजे एरिया जीएम जीसी साहा, सुदामडीह थाना प्रभारी विनय कुमार व नेताओं को आगे आना पड़ा। इसके बाद मामला शांत हुआ। फिर वार्ता शुरू हुई। डीएसपी ने प्रबंधन व आउटसोíसंग प्रबंधन से वार्ता कर प्रत्येक विस्थापित को 20 हजार के अलावे अतिरिक्त राशि देने का आश्वासन दिया। कहा वह राशि क्या होगी। अभी नहीं कह सकते हैं।

...

कुल 372 लोग हुए चिहित :

चासनाला : सुदामडीह एएसपी प्रबंधन की पांच सदस्यीय कमेटी ने फायर पैच से प्रभावित लोगों को चिन्हित करने का कार्य लगभग पूरा कर लिया है। इसमे चीफ हाउस के 10, मुंडा धौड़ा बस्ती के 47, सुदामडीह मेन कालोनी माइनस क्वार्टर के 134 व मेन कालोनी के 181 परिवार की लिस्ट तैयार की गई है। प्रबंधन ने कहा कि कुछ लोगो के बाहर जाने व घर में नहीं रहने के कारण उनको सूची में जोड़ना बाकी है। ़िफलहाल 372 लोग चिन्हित हुए हैं। इनका विस्थापन करना है।

..

प्रभावितों के दुख व तकलीफ से मैं सहमत हूं। इस मुद्दे पर सीएमडी से भी मिलकर बातचीत की। मानवता के आधार पर जो कुछ हो सकेगा करेंगे। परंतु एएसपी का भविष्य फायर पैच है। इसे चलाने में आप प्रबंधन का सहयोग करें।

- जीसी साहा, जीएम ईजे एरिया

..

क्षेत्र के सारे लोगों को चिन्हित कर भौतिक सत्यापन किया जाएगा। इसके बाद पुनर्वास का लाभ दिया जाएगा। बातचीत का दौर आगे भी जारी रहेगा। समझौते के आधार पर कार्य शुरु होगा। ताकि आगे कोई परेशानी नहीं हो।

- एके सिन्हा, डीएसपी सिदरी

..

सभी विस्थापितों को सेल चासनाला की तर्ज पर एक घर का डेढ़ लाख रुपये देना होगा। नहीं तो एक भी विस्थापित घर खाली नहीं करेंगे। जरुत पड़ी तो डीसी व न्यायालय के पास जायेंगे।

- प्रियंका देवी, पार्षद

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस