नावागढ ़: खरखरी नारायण धौड़ा के ग्रामीणों ने रविवार को पुरानी कच्ची सड़क को बंद करने के विरोध में फोरलेन सड़क निर्माण कार्य को रोक दिया। अधिकारियों के साथ ग्रामीणों की नोंकझोंक भी हुई। ग्रामीणों ने रास्ता बनाने की मांग को लेकर प्रदर्शन कर नारेबाजी किया। ग्रामीण सड़क पर बैठकर आंदोलन करने लगे। ग्रामीणों के विरोध को देखकर अधिकारियों को वहां से बैरंग लौटना पड़ा। ग्रामीणों का आरोप था कि खरखरी नारायण धौड़ा के लोग उक्त कच्ची सड़क से चार विद्यालय व आंगनबाड़ी केंद्र सहित अन्य जगहों पर आना-जाना कैसे करेंगे। उक्त सड़क को बंद कर फोरलेन का निर्माण किया जा रहा है। ग्रामीण अंडरग्राउंड रास्ता और प्राथमिक विद्यालय के चारदिवारी की मांग कर रहे थे। उनका कहना था कि जब तक हमारी मांगें पूरी नहीं हो जाती हैं, तब तक फोरलेन का काम शुरु नहीं होने दिया जाएगा। इधर खरखरी पंचायत की मुखिया पिकी कुमारी ने उपायुक्त सहित प्रशासनिक अधिकारियों को पत्र देकर फोरलेन रोड निर्माण कर रहे अधिकारियों पर आरोप लगाते हुए कहा है कि सड़क निर्माण से पंचायत के शौचालय, पीसीसी पथ व नाली निर्माण को ध्वस्त कर दिया गया है। सड़क निर्माण कर रहे अधिकारियों से एनओसी मांगने पर सहमत नहीं हैं।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस