जागरण संवाददाता, धनबाद: अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ता अब गांव गांव जाकर तिरंगा लहराएंगे। न केवल गांव में तिरंगा फहराया जाएगा, बल्कि इसके बारे में भी लोगों को जागरूक किया जाएगा। इसकी तैयारियों को लेकर जिलास्तर पर बैठक कर रणनीति बनी। इसमें अभाविप की राष्ट्रीय मंत्री विनीता इंदवार विशेष रूप से उपस्थित हुईं और तैयारियों की समीक्षा की।

वर्ष भर में हुए सेवा कार्यों की भी समीक्षा की गई। आगामी एक साल तक के कार्ययोजना पर मंथन हुआ। बैठक का आरम्भ सरस्वती माता और विवेकानंद के छाया चित्र पर माल्यार्पण और दीप प्रज्जवलन के साथ कार्यक्रम का विधिवत उद्घाटन हुआ। अभाविप स्वतंत्रता के अमृतउत्सव (75 वर्ष आजादी के) को लेकर एक गांव एक कार्यकर्ता एक तिरंगा को लेकर विस्तृत योजना बनी।

इसमें धनबाद जिले में 200 कार्यकर्ता 200 गांवों में ध्वजारोहण और आजादी के संघर्ष में शहीद हुए वीरों को श्रद्धांजलि समर्पित करेंगे। साथ ही शैक्षणिक आंदोलन आयाम कार्यो को लेकर भी चर्चा हुई। राष्ट्रीय मंत्री विनीत इंदवार ने कहा कि अभाविप ही एकमात्र छात्र संगठन है जो कोरोना जैसी विभीषिका में भी समाज के प्रत्येक वर्ग के लोगों के सहयोग के लिए तत्परता से खड़े रहा एवं छात्रों की समस्याओं के लिए निरंतर संघर्ष करते रहा। इस बैठक में राष्ट्रीय मंत्री विनीता इंदवार, प्रदेश उपाध्यक्ष डॉ ओपी सिन्हा प्रांत उपाध्यक्ष विनोद एक्का, विभाग संगठन मंत्री राजीव रंजन, महानगर अध्यक्ष संजय सर, महानगर उपाध्यक्ष स्वेता, प्रदेश सहमंत्री आयुषी गुप्ता, अमन अभिषेक, महानगर मंत्री शिवम् सिंह, महानगर संगठन मंत्री अभिनव जीत, प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य अंशु तिवारी, सहदेव रवानी, शिवशंकर दास, अभिषेक चक्रवर्ती, मनोरंजन सिंह, उमा भारती, विकास बाउरी, शिवम रवानी, अंकित केसरी, शुभम चंद्र, अंकित सिंह सहित जिले अन्य 45 कार्यकर्ता मौजूद थे।

Edited By: Atul Singh