संवाद सहयोगी, तोपचांची : बिहार के नवादा से मजदूरों को लेकर पश्चिम बंगाल जा रही एक रिजर्व बस बुधवार सुबह तोपचांची थाना क्षेत्र के कंडेडीह के समीप जीटी रोड पर आलू लदी पिकअप वैन और चूना लदे ट्रक को टक्कर मारने के बाद पलट गई। हादसे में 13 मजदूर जख्मी हो गए। सभी घायलों का इलाज तोपचांची स्वास्थ्य केंद्र में किया गया। शाम में दूसरी बस मंगवाकर सभी घायलों तथा बस पर सवार लगभग सौ लोगों को पश्चिम बंगाल भेज दिया गया। बस पर सवार सभी लोग बंगाल के ईंट भट्ठों में मजदूरी करते हैं। बस पर सवार लोगों ने बताया कि चालक शराब के नशे में था और तेज रफ्तार से गाड़ी चला रहा था।

पुलिया में फंसकर पलटी बस : पिकअप वैन को टक्कर मारने के बाद बस कुछ दूरी तक घसीटाते हुए एक निर्माणाधीन पुलिया में जाकर फंस गई। अगर बस पुलिया में नहीं फंसती तो बड़ा हादसा हो सकता था। बस में एक से पांच वर्ष तक के 35 बच्चों समेत करीब एक सौ लोग सवार थे। बच्चों को खरोंच तक नहीं आई। बस में सवार 45 महिलाएं तथा 45 पुरुष थे। हादसे के वक्त अधिकतर मजदूर बस में सो रहे थे। बस पलटते ही मजदूर चीखने चिल्लाने लगे। उनकी आवाज सुनकर पड़ोस गांव के ग्रामीण मौके पर पहुंचे और बस की खिड़कियों का शीशा तोड़कर सभी को बाहर निकाला। सूचना पाकर पुलिस मौके पर पहुंची और ग्रामीणों के सहयोग से सभी घायलों को इलाज के लिए तोपचांची स्वास्थ्य केंद्र ले गई। पुलिस ने बस तथा पिकअप वैन को को कब्जे में ले लिया है।

बस सवार नवादा जिले के तिलकटांड़ निवासी रामानंद चौहान ने बताया कि बस चालक ने शराब पी रखी थी जिससे वह नशे में था और सामने आलू लदी पिकअप वैन को टक्कर मारने के बाद चूना लदे ट्रक को भी टक्कर मारते हुए पुलिया के समीप पलट गया। बताया कि बस में नवादा जिले के कई गावों के मजदूर परिवार मजदूरी करने को बंगाल जा रहे थे। सभी मजदूर करीब आठ महीना वहीं मजदूरी करते हैं। मजदूरों ने बताया कि बंगाल के ठेकेदारों ने नवादा में बस बुक करके उन्हें रवाना किया था।

हादसे में ये हुए जख्मी : नवादा के तिलकटांड़ निवासी रामानंद चौहान, बगोदर गांव के लोहरी मांझी, मोदीबिहार निवासी इंद्रदेव कुमार, पुझा गांव की मुकरी देवी, डिबरी गांव की सुशीला देवी, मुरकटा गांव की ललिता देवी व कल्लू चौहान, मुरकट्टा गांव के अर्जुन राजवंशी, साहिल कुमार, मंगाली तुरी, हिसुआ की शोभा देवी, गौरी देवी, अंकुरी देवी शामिल है। पिकअप वैन में लदा 25 बोरा आलू गायब : बस के टक्कर से आलू लदी पिकअप वैन सड़क किनारे पलट गई। वैन में लदे आलू सड़क के किनारे बिखर गए। सुबह जब आलू व्यापारी आलू को समेटने लगा तो उसे सिर्फ 22 बोरा आलू ही मिला, बाकि 25 बोरा आलू गायब था। आलू लदी वैन हजारीबाग से धनबाद जा रही थी।

Edited By: Jagran