धनबाद : न्यू टाउन हॉल में सोमवार को मतगणना कर्मियों का प्रशिक्षण संपन्न हुआ। दो दिनों तक चले प्रशिक्षण में काउंटिंग सुपरवाइजर, काउंटिंग असिस्टेंट व माइक्रो ऑब्जर्वर को प्रशिक्षण दिया गया। कृषि बाजार में गुरुवार को धनबाद लोकसभा क्षेत्र का मतगणना होना है। छह विधानसभा के लिए 127 मतगणना टेबल बनाये गए हैं। प्रत्येक टेबल पर काउंटिंग सुपरवाइजर, काउंटिंग असिस्टेंट और माइक्रो ऑब्जर्वर रहेंगे। मतगणना हॉल में मोबाइल का प्रयोग वर्जित रहेगा। कोई भी मतगणना कर्मी मोबाइल लेकर कृषि बाजार प्रागण में नहीं आएंगे। मतगणना कर्मियों के लिए वाहन पार्किंग की व्यवस्था ड्राइविंग स्कूल के प्रागण में की गई है। उप निर्वाचन पदाधिकारी मृत्युंजय कुमार पाडेय ने बताया कि अगर किसी बूथ में दो कंट्रोल यूनिट का प्रयोग हुआ है तो उसे मतगणना में प्लस करके संबंधित प्रपत्र में मतगणना कर्मी अंकित करेंगे।

मास्टर ट्रेनर कुमार वंदन ने पावर पॉइंट प्रेजेंटेशन के माध्यम से मतगणना के प्रत्येक चरण को बिंदुवार समझाते हुए कहा कि काउंटिंग सुपरवाइजर और काउंटिंग असिस्टेंट फ्लोचार्ट के अनुसार ही संबंधित मशीन की गिनती करें। फ्लोचार्ट पर एजेंट और कर्मियों का हस्ताक्षर करना ना भूलें। मतगणना के लिए लाई गई ईवीएम मशीन में अंकित मतों और मतलेखा में उल्लिखित मतों का मिलान भी अवश्य करें। माइक्रो ऑब्जर्वर का मुख्य काम होगा कि मतगणना की पूरी प्रक्रिया पर नजर बनाए रखेंगे। संबंधित प्रपत्र में मतगणना परिणाम को संधारित करे। अंचलाधिकारी पुटकी सुरेंद्र कुमार ने वीवीपैट से निकली पर्चियों को गिनने के तरीकों के बारे में बतलाया। मास्टर ट्रेनर राज वर्मा व कुमार वंदन ने ईवीएम के कंट्रोल यूनिट का हैंड्स ऑन करके मतगणना करके दिखाया। प्रशिक्षण में मास्टर ट्रेनर दिलीप कुमार कर्ण, राजकुमार वर्मा, कुमार वंदन, अनिल कुमार झा, संजय कुमार, रामलखन कुमार, पुष्कर चंद्र झा, मो. गफ्फार, बिराज कुमार, संजय कुमार आदि उपस्थित थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस