जागरण संवाददाता, देवघर : देवघर पुलिस चोर तक पहुंचने के लिए खून के नमूने का सहारा ले रही है। इस तरह की यह पहली घटना है जब चोरी के मामले में पुलिस ब्लड सैंपल संग्रह कर एफएसएल जांच के लिए भेजा जा रहा है। बेलाबगान दुर्गाबाड़ी में सेवानिवृत्त जिला जज अंनत कुमार ¨सह के घर में 17 अक्टूबर की रात चोरी हुई थी। छानबीन करने नगर थाना के एसआइ दिलीप दास उनके आवास पर पहुंचे। इस दौरान एसआइ ने गिरे खून के धब्बे को संग्रह किया। उन्होंने घर के अंदर फेंकी गई पंट्टी भी बरामद की। डीवीआर का टूटा टुकड़ा, बंदूक साफ करने वाला रड व धूप में पहनने वाला काला चश्मा की सूची तैयारी की गई।

सेवानिवृत्त जज ने बताया कि घटना के दिन वह अपने बेटे के पास अमेरिका में थे। वहां से 8 सितंबर को वह देवघर पहुंचे। इससे पहले उनका पुत्र प्रशांत कुमार ने वारदात के दूसरे दिन यहां आकर थाने में मामला दर्ज कराया था। इस दौरान चोरों ने 40 गोलियां, नई व कीमती साड़ी, बेटे का नया कोर्ट पैंट, चांदी का किया व सिक्का, सोने की अंगूठी, वाइफाइ व डीवीआर टपा लिए थे। एसडीपीओ विकास चंद्र श्रीवास्तव ने बताया कि अब तक इस मामले में पांच संदिग्ध सहित केयर टेकर विकास ¨सह से भी पूछताछ की जा चुकी है।

Posted By: Jagran