संवाद सहयोगी, मधुपुर (देवघर): स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह के तहत 16 से 27 मई तक आंशिक लॉकडाउन के लिए झारखंड सरकार द्वारा जारी नए गाइडलाइन का सख्ती से अनुपालन कराने को लेकर अनुमंडल प्रशासन ने कमर कस ली है। गाइडलाइन का उल्लंघन करने पर पुलिस की सख्ती अब बढ़ने वाली है। इसे लेकर शनिवार को अनुमंडल पदाधिकारी योगेंद्र प्रसाद ने अपने कार्यालय कक्ष में एसडीपीओ विनोद रवानी सहित अनुमंडल प्रशासन के तमाम पदाधिकारियों के साथ अहम बैठक की।अनुमंडल पदाधिकारी ने कहा कि रविवार से सुबह और शाम बाजार भ्रमण कर लोगों को सरकार द्वारा जारी गाइडलाइन का अनुपालन शक्ति से कराया जाएगा। दोपहर दो बजे के बाद बाजार में बेवजह आवागमन पर पूरी तरह प्रतिबंध रहेगी सिर्फ आवश्यकता के अनुसार दोपहिया वाहनों से चलने वाले लोगों को अनिवार्य रूप से ईपास लेना होगा।ईपास ऑनलाइन के माध्यम से निर्गत किया जा रहा है।कहा की दोपहर दो बजे के बाद बेवजह बाजार में घूमने वाले लोगों के विरुद्ध सख्त करवाई की जाएगी। प्रतिबंधित दुकान खोलने वाले दुकानदारों के विरुद्ध् गिरफ्तारी और केस दर्ज करने की कार्रवाई में तेज की जाएगी। चोरी-छुपे जुगाड़ लगाकर प्रतिबंधित दुकानें खोलने दुकानदारों के विरुद्ध सुबह आठ बजे से प्रतिदिन छापेमारी की जाएगी। सड़कों पर बेवजह निकलने वालों से पुलिस उन्हें रोककर उनके घरों से बाहर निकलने का कारण पूछेगी। संतोषजनक कारण और जवाब नहीं मिलने पर शक्ति से करवाई की जाएगी। बगैर ईपास के मोटरसाइकिल चलाने वाले लोगों से जुर्माना वसूला जाएगा। एसडीपीओ विनोद रवानी ने कहा कि कोरोना संक्रमण से बचाव को लेकर चौक-चौराहों पर दोपहिया वाहन चेकिग, मास्क चेकिग व जागरूकता अभियान रविवार सुबह आठ बजे से चलाया जाएगा। मौके पर प्रखंड विकास पदाधिकारी राजीव कुमार सिंह, नगर परिषद कार्यपालक पदाधिकारी सुशील कुमार, अंचलाधिकारी परमेश्वर कुशवाहा, इंस्पेक्टर इंचार्ज मनोज कुमार मल्लिक व अन्य उपस्थित थे।