देवघर : रामनवमी को शांतिपूर्ण माहौल में संपन्न करने को लेकर शनिवार को अनुमंडल पदाधिकारी विशाल सागर की अध्यक्षता में अनुमंडल क्षेत्र के सभी अंचलाधिकारी, प्रखंड विकास पदाधिकारी व थाना प्रभारियों की बैठक हुई। इस दौरान उन्होंने कहा कि बिना प्रशासनिक अनुमति के अखाड़े की जुलूस नहीं निकालने दें। निर्धारित रूट चार्ट का पूरी तरह से अनुपालन करें। कहा कि रामनवमी का त्यौहार पूर्ण रूप से आस्था से जुड़ा है इसलिए इसको राजनीतिक रंग कतई नहीं दें। राजनीतिक दल एवं उनके भावी उम्मीदवार इस धाíमक उत्सव का राजनीतिक फायदा लेने की कोशिश नहीं करें। उन्होंने अखाड़ों द्वारा निकाली जाने वाली जुलूस की फोटोग्राफी और वीडियोग्राफी कराने का निर्देश दिया, ताकि शरारती तत्वों पर कड़ी नजर रखी जा सके। साथ ही डीजेवालों को चिन्हित करने की सलाह दी।

हुड़दंगियों पर रहेगी पुलिस की पैनी नजर: रामनवमी को लेकर शनिवार को सोनारायठाढ़ी थाना परिसर में बीडीओ जयप्रकाश नारायण कीअध्यक्षता में शांति समिति की बैठक की गई। बीडीओ ने रामनवमी आपसी भाईचारे के साथ मनाने की अपील की। कहा कि सोनारायठाढ़ी, चंदना, मधुबन, भीखोडीह, बालीडीह व कोल्हड़िया गांव में पुलिस की पैनी नजर रहेगी। हुड़दंग या अफवाह फैलाने वालों पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी। मौके पर थाना प्रभारी अरूण पटेल, एएसआई मोहम्मद अकील अहमद, शब्बीर खान, समाजसेवी महेन्द्र यादव, फिरोज अंसारी, जयनारायण भोक्ता, सदीक अंसारी, मुखिया बलराम मंडल आदि मौजूद थे।

इधर चितरा थाना परिसर में शनिवार को रामनवमी को लेकर शांति समिति की बैठक हुई। इसमें सौहार्दपूर्ण वातावरण में रामनवमी मनाने का निर्णय लिया गया। प्रखंड विकास पदाधिकारी साकेत कुमार सिन्हा की अध्यक्षता में हुई इस बैठक में शांति समिति के सदस्यों की अपेक्षित उपस्थिति बारिश के कारण नहीं हो पाई। मौके पर थाना प्रभारी जेएन सिंह, सअनि ललन कुमार सिंह, युगल राय, योगेश राय, सागर राय मौजूद थे।

Posted By: Jagran