जागरण संवाददाता, देवघर। देवघर के बैद्यनाथ मंदिर में रविवार देर शाम बम मिलने की अफवाह पर थोड़ी देर के लिए अफरातफरी मच गई, लेकिन जांच में यह प्लास्टिक की वस्तु निकली। संताल परगना की आइजी सुमन गुप्ता ने कहा कि किसी तरह का विस्फोटक नहीं मिला। प्लास्टिक की कोई चीज थी।

रात करीब 8.45 बजे संस्कार मंडप के पास किसी कांवड़िया के जलपात्र में संदिग्ध वस्तु मिलने की सूचना फैल गई। इसके बाद प्रशासन ने तुंरत संस्कार मंडप को खाली कराया। एटीएस व प्रशासनिक अधिकारियों की टीम पहुंची। मंदिर के हर कोने में लगे सीसीटीवी कैमरे को खंगाला गया। जांच के बाद पता चला कि यह वस्तु प्लास्टिक का डिब्बा था। हालांकि सूचना मिलते ही मंदिर का प्रवेश द्वार बंद करा दिया गया।

देखें तस्वीरें, बैद्यनाथ मंदिर में बम की अफवाह से सनसनी

जो श्रद्धालु अंदर थे उन्हें शीघ्र दर्शनम वाली कतार से जलार्पण कराया गया। मंदिर के चारों ओर पुलिसकर्मियों को तैनात कर दिया गया। चौथी सोमवारी को लेकर एक लाख से अधिक कांवड़ियों के पहुंचने की संभावना है। उधर, बासुकीनाथ मंदिर की सुरक्षा भी बढ़ा दी गई है।

सिपाही ने देखी थी संदिग्ध वस्तु, सफाईकर्मी ने मचाया शोर
देवघर के बैद्यनाथ मंदिर में रविवार देर शाम संदिग्ध वस्तु मिलने की अफवाह पर थोड़ी देर के लिए अफरातफरी मच गई, लेकिन जांच में यह प्लास्टिक की वस्तु निकली। प्रशासन ने श्रद्धालुओं को अफवाह से बचने की अपील की। हालांकि इस वाकया के बाद देवघर और बासुकीनाथ में हाई अलर्ट कर दिया गया। बताया जाता है करीब रात्रि 8.45 बजे किसी कांवरिया के जलपात्र में एक सिपाही ने कोई चीज देखी।

सिपाही ने उसे रोकना चाहा तो वह उसे छोड़कर भीड़ में गुम हो गया। इसी बीच,वहां पहुंचे सफाईकर्मी ने शोर मचाया। अधिकारियों ने संस्कार भवन को खाली करा दिया। आइजी सुमन गुप्ता, डीआइजी अखिलेख झा, एसपी आदि पहुंच गए। एटीएस की टीम भी पहुंच गई। जांच के बाद सुमन गुप्ता ने कहा कि कुछ नहीं था। 
 

यह भी पढ़ेंः आइटी कंपनियां करेंगी निवेश, पांच हजार लोगों को मिलेगा रोजगार

यह भी पढ़ेंः दुर्गापूजा पर चलेंगी कई स्पेशल ट्रेनें, जानिए कहां होगा ठहराव

 

Posted By: Sachin Mishra

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस