देवघर : देवघर नगर निगम में चल रहा है निविदा निष्पादन में मनमानी, चेहतों को कार्य आवंटन में नियम-कानून की धज्जियां उड़ाई जा रही है। वहीं इस मनमानी को लेकर निगम के ठेकेदारों में रोष है। इसको लेकर ठेकेदारों ने जिला जनशिकायत कोषांग में आवेदन देकर न्याय की गुहार लगायी है। निगम के ठेकेदार राहुल ¨सह, दीपक कुमार, सुधांशु सहित कुल ग्यारह ठेकेदारों ने जिला जनशिकायत कोषांग में शिकायत दर्ज करायी है। जिसमें नगर निगम द्वारा एनआईटी सूचना संख्या 4/18-19 एवं 16/18-19 में अपने चहेते ठेकेदारों को कार्य आवंटित किए जाने का आरोप लगाया है। उसमें कहा गया है कि ग्रुप 4 में नियम कानून को ताक पर रखकर कार्य आवंटित कर दिया गया जबकि ग्रुप 16 को भी उसी प्रक्रिया के तहत दिए जाने की कार्यवाही की जा रही है। ठेकेदार ने उपायुक्त से निगम के अधिकारियों पर व्यक्तिगत स्वार्थ पूर्ति के लिए मनमाने तरीके से लगातार निविदा निष्पादन में बरती जा रही अनियमितता की निष्पक्ष जांच कराने का अनुरोध किया है। ठेकेदार ने दावा किया है कि कुछ करीबी ठेकेदारों को कार्य आवंटित करने के क्रम में निविदा के नियम एवं शर्तों की पूरी तरह से अनदेखी की जा रही है। शिकायत को लेकर जन शिकायत कोषांग के नोडल पदाधिकारी ने दर्ज शिकायत पर नगर आयुक्त को संपूर्ण तथ्यों के आधार पर जांच करने का निर्देश देते हुए एक सप्ताह के अंदर रिपोर्ट सौंपने को कहा है। उल्लेखनीय है कि इसके पूर्व भी निविदा निष्पादन को लेकर नागेंद्र बलियासे ने भी सूचना अधिकार के तहत निविदा में बरती गई अनियमितता पर जवाब की मांग की थी लेकिन निगम द्वारा उपलब्ध नहीं कराने पर उन्होंने मामले को लेकर रांची में की है। ------

निविदा का निष्पादन सारे नियमों के अनुरूप किया जा रहा है। जहां तक प्रतिवेदन सौंपने की बात है, वह ससयम दे दिया जाएगा। पीड़ित के पास कोर्ट का भी विकल्प है।

संजय कुमार ¨सह, नगर आयुक्त, देवघर नगर निगम

Posted By: Jagran