देवघर : नगर आयुक्त पर वार्ड में विकास कार्यों में भेदभाव करने को लेकर रविवार को वार्ड नंबर के पार्षद मृत्युंजय राउत के कार्यालय परिसर में वार्ड पार्षदों की बैठक आयोजित की गई। इसमें नगर निगम की ओर से निकाली गई निविदा पर सवाल उठाया गया। वार्ड पार्षदों का कहना है कि विभाग की ओर से निकाली गई निविदा में स्पष्ट रुप से भेदभाव बरता गया है। खासकर निगम में शामिल किए गए ग्रामीण क्षेत्र के साथ। वार्डो का कहना है कि नगर आयुक्त विकास को आवंटित करने में कुछ चुनिदा वार्ड को ही प्राथमिकता दी गई है। इससे अन्य वार्डो में विकास का कार्य काफी धीमी गति से हो रहा है। इससे पार्षद काफी दुखी है। पार्षदों ने कहा कि विभाग सभी वार्डों में समान हिस्सेदारी मिलना चाहिए। इसके लिए नगर आयुक्त तुरंत संबंधित वार्डों समान राशि का निविदा निकालने को कहा गया है। वार्डों का कहना है कि अगर उनकी मांगों पर तत्काल विचार नहीं किया गया तो पार्षद आंदोलात्मक रुख अख्तियार करने पर विवश हो जाएंगे। कहा कि नगर आयुक्त के रवैये का असर आने वाले चुनाव पड़ेगा।

इस बैठक में वार्ड पार्षद कन्हैया झा उर्फ आशीष झा, रवि कुमार राउत, सुभाष कुमार राणा, बिहारी महतो, रामकृष्ण प्रसाद, कन्हैया दुबे, राजेन्द्र दास, शहनाज प्रवीण, डॉली देवी, मृत्युजंय कुमार, चंदा देवी, कार्तिक प्रसाद यादव, प्रेमानंद वर्मा, मिथलेश चरण मिश्रा, सुनिता देवी, संजु देवी सहित कई पार्षद प्रतिनिधि भी मौजूद थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस