देवघर : देवघर पुलिस ने गुप्त सूचना के आधार पर छापेमारी कर बुधवार की रात ठगी की योजना बनाते समय पांच साइबर आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया। उनके पास से 13 मोबाइल, 14 एटीएम, एक लेपटॉप, 12 पासबुक, छह चेकबुक व 20 हजार रुपया नकद बरामद किया गया है। पकड़े गए आरोपितों में करौं थाना क्षेत्र के प्रतापपुर गांव निवासी सुभाष कुमार रमानी, चंद्रकांत रमानी, प्रदीप यादव, गणेश कुमार रमानी व पथरोल थाना क्षेत्र के ठेंगाडीह गांव निवासी मुकेश कुमार मंडल शामिल हैं। इनमें से गणेश व मुकेश के खिलाफ करौं थाना में साइबर से जुड़े पहले से मामले दर्ज हैं।

पुलिस को 26 मई को गुप्त सूचना मिली थी कि कुछ साइबर आरोपित लोगों को बैंकों के कस्टमर केयर का प्रतिनिधि बताकर कॉल कर उनके बैंक खाता की जानकारी ले रहे हैं। इसी सूचना के आधार पर एसपी पीयूष पांडेय के निर्देश पर पुलिस की विशेष टीम गठित कर इन सभी को गिरफ्तार किया गया। 22 सदस्यीय छापेमारी दल में साइबर थाना के पुलिस निरीक्षक कलीम अंसारी, प्रशिक्षु दरोगा शैलेश कुमार पांडेय, गौतम कुमार वर्मा, कपिल देव, मनोज व अन्य शामिल थे।

खाताधारियों का लगाया जाएगा पता : पुलिस ने छापेमारी के दौरान कई खाते, चेकबुक व दस्तावेज भी बरामद किए हैं। एसपी पीयूष पांडेय ने कहा कि जिन लोगों का खाता है उनके बारे में भी पता लगाया जाएगा। खाताधारियों का इन साइबर आरोपितों से क्या संबंध है इसकी छानबीन की जा रही है। वहीं, आइसीआइसीआइ बैंक के ग्राहक से ठगी मामले में भी इन बदमाशों की संलिप्ता की जांच की जाएगी। पूर्व के मामलों में पकड़े गए आरोपितों को रिमांड पर लिया जाएगा।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस