संस, करौं : प्रखंड मुख्यालय के अलावा पाथरोल में बंगाली समुदाय के लोगों ने गुरुवार को नया साल मनाया। हालांकि कोरोना के कारण लोगों ने बड़ी ही सादगी से घर में रह कर ही नया साल का आनंद उठाया। शाम में ब्राह्मणों द्वारा पूजा पाठ किया गया। समुदाय के लोगों ने एक दूसरे को नए साल की मुबारकबाद दी। उल्लेखनीय है कि बांग्ला पंचाग के अनुसार पहली वैशाख को बंगाली समुदाय नया साल मनाते है। इस दिन दुकानदार पुराने बही खाता को बदल देते हैं। वहीं दुकान के दरवाजे पर आकर्षक रंगोली भी बनाया जाती है। नए साल के मौके पर करौं स्थित विभिन्न मंदिरों व पाथरोल काली मंदिर में पूजा अर्चना करने वालों का तांता लगा रहा। वहीं प्रखंड के विभिन्न गांवों में मासव्यापी कीर्तन शुरू हो गया है।

आरती के क्रम में महिला के कपड़े में लगी आग : बाबा मंदिर प्रांगण में गुरुवार को आरती करने के दौरान एक महिला के कपड़े में आग लग गई। इस कारण महिला प्रतिमा देवी आंशिक रूप से झुलसकर घायल हो गई। बताया जाता है कि महिला आरती कर रही थी। इस दौरान उसकी साड़ी में अचानक आग लग गई। आग देखकर वहां खड़े पुरोहित व श्रद्धालु दौड़कर आए और आग को बुझाया। घटना में घायल महिला को इलाज के लिए बाबा मंदिर के स्वास्थ्य उपकेन्द्र ले जाया गया। वहां से उसे बेहतर इलाज के लिए देवघर सदर अस्पताल भेज दिया गया। प्रतिमा देवी ने बताया कि वह पूजा करने आई थी। पूजा करने के बाद वह आरती कर रही थी। इस दौरान उनकी साड़ी में आग ने कब और कैसे पकड़ा इसका उन्हें पता भी नहीं चल पाया। महिला की हालत स्थिर है।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप