देवघर : विवेकानंद शैक्षणिक, सांस्कृतिक एवं क्रीड़ा संस्थान तथा योगमाया मानवोत्थान ट्रस्ट के संयुक्त बैनर तले शहर के मातृ मंदिर बालिका उच्च विद्यालय की पूर्व प्रधानाध्यापिका शोभना सिंह द्वारा लिखित कहानी की पुस्तक अपराजिता का लोकार्पण न्यू ग्रैंड होटल के सभागार में विवेकानंद संस्थान के केंद्रीय अध्यक्ष डॉ. प्रदीप कुमार सिंह देव, योगमाया ट्रस्ट के राष्ट्रीय सचिव ई. अंजनी कुमार मिश्रा, जयप्रकाश नारायण सिंह, सत्संग कॉलेज के पूर्व प्राचार्य डॉ. नागेश्वर शर्मा, श्याम सुंदर शिक्षा सदन, देवघर जिला सांस्कृतिक परिषद के सचिव रामसेवक सिंह गुंजन, देवघर पुस्तक मेला समिति के उपाध्यक्ष मोतीलाल द्वारी, प्रगतिशील लेखक संघ देवघर के अध्यक्ष प्रो. रामनंदन सिंह, प्राइवेट स्कूल एसोसिएशन के अध्यक्ष श्रीकांत झा ने संयुक्त रूप से किया। स्व. विनय शंकर प्रसाद सिंह एवं स्व. प्रभाष कुमारी देवी की पुत्री लेखिका शोभना सिंह की यह प्रथम पुस्तक है। वर्षों तक मातृ मंदिर स्कूल में शिक्षिका एवं प्रधानाध्यापिका के रूप में कार्य कर चुकीं शोभाना को डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन पुरस्कार, गीतांजलि शताब्दी स्मृति समर्पण, लाला लाजपतराय स्मृति सम्मान एवं महात्मा गांधी स्मृति सम्मान पुरस्कार से नवाजा जा चुका है। मौके पर लच्छीरामका चैरिटेबल ट्रस्ट के संरक्षक न्यासी ई. यमुना प्रसाद लच्छीरामका, रवि केशरी, सुनीता सिंह, डॉ. भारतेंदु दुबे, देवघर सेंट्रल स्कूल के प्राचार्य सुबोध कुमार झा, मैत्रेया स्कूल के निदेशक सोमेश दत्त मिश्रा, एकलव्य पब्लिक स्कूल की निदेशिका रेखा कुमारी, प्राचार्य राजवर्धन चौधरी, ब्राइट करियर स्कूल के निदेशक अवधेश कुमार सिंह, प्राचार्या पुष्पा सिंह, आरएल सर्राफ उच्च विद्यालय के शिक्षक डॉ. विजय शंकर, संकुलसेवी साधक राकेश कुमार राय, सुप्रभा शिक्षा स्थली के निदेशक प्रेम कुमार समेत कई शिक्षाविद् मौजूद थे।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021