करौं : श्रम नियोजन एवं प्रशिक्षण विभाग द्वारा असंगठित मजदूरों के निबंधन के लिए पंडित दीनदयाल उपाध्याय की जयंती 25 सितंबर से राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की जयंती 2 अक्टूबर तक विशेष अभियान श्रमशक्ति चलाया जा रहा है। इसके तहत बुधवार को प्रखंड कार्यालय सभागार में शिविर का आयोजन किया गया है। जिसमें 20 असंगठित कर्मकार का निबंधन कराया गया गया। श्रम विभाग के प्रखंड समन्वयक रसीलाल सोरेन ने बताया कि 26 व 27 को कसैया, 28 व 29 को डिडोकोली, 30 व एक अक्टूबर को बदिया पंचायत भवन में एवं 2 को नागादरी पंचायत के धनियाडीह गांव में शिविर का आयोजन किया जाएगा। कम संख्या में निबंधन होने के कारण 27 को प्रखंड कार्यालय में दोबारा शिविर लगाया जाएगा। इस दौरान असंगठित मजदूरों को कर्मकार बीमा, मुख्यमंत्री छात्रवृत्ति, कौशल उन्नयन, चिकित्सा सहायता समेत कई अन्य योजनाओं की जानकारी विस्तारपूर्वक दी गई।

निबंधन कराने के लिए विहित प्रपत्र में आधार कार्ड, बैंक खाता, नॉमिनी के आधार कार्ड की छायाप्रति एवं दो पासपोर्ट साइज फोटो जरूरी है। झारखंड भवन एवं अन्य सन्निर्माण कर्मकार बोर्ड में कराने के लिए 18 से 60 वर्ष होना जरूरी है। आवेदक पूर्व में कम से कम 90 दिनों तक मजदूरी किया हो। इसके लिए निबंधन शुल्क दस रुपये है। जबकि झारखंड असंगठित कर्मकार सामाजिक सुरक्षा योजना में असंगठित मजदूर की उम्र 18 से 59 वर्ष, ढाई एकड़ व उससे कम कृषि योग्य भूमि एवं जिसकी मजदूरी सरकार द्वारा निर्धारित न्यूनतम मजदूरी से अधिक नहीं हो। मौके पर पंसस नित्यानंद यादव, श्रमिक मित्र शशि कुमार यादव आदि उपस्थित थे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप