कान्हाचट्टी : कान्हाचट्टी बाजार निवासी मोहम्मद मिस्टर आलम (35) ने बुधवार की शाम संपति विवाद में अपने पिता शमसुद्दीन अंसारी व दो बहनों को पेट्रोल छिड़क कर आग लगा दी। आग से झुलसे शमसुद्दीन अंसारी, हीना परवीन (21) व सइस्ता परवीन (22) की स्थिति गंभीर बताई जा रही है। आग से बचने के लिए एक बहन ने कुआं में छलांग लगा दी। ग्रामीणों ने उसे बाहर निकाला।

जानकारी के अनुसार मिस्टर लातेहार जिला के बालूमाथ में रहता है। पिता के साथ फोन पर किसी संपति को लेकर नोकझोंक हुई थी। वह बालूमाथ से करीब चार बजे कान्हाचट्टी पहुंचा। घर पहुंचते ही उसने परिजनों पर पेट्रोल छिड़ककर आग लगा दी। आग में झुलसे शमसुद्दीन एवं उसकी बेटियों को तड़पते देख आसपास के ग्रामीण इकट्ठा होकर किसी तरह उन्हें बचाया। आग की जलन से व्याकुल साइस्ता परवीन ने कुआं में छलांग लगा दी। ग्रामीणों के सहयोग से उसे भी कुआं से बाहर निकाला गया। घटना की सूचना ग्रामीणों ने राजपुर थाना पुलिस को दी। सूचना मिलते ही थाना प्रभारी घनश्याम प्रसाद साह, एसआइ एमएम चंपिया दलबल के साथ घटनास्थल पर पहुंचे और सभी को इलाज के लिए हजारीबाग सदर अस्पताल भेजा। जानकारी के अनुसार पिता व एक बहन खतरे से बाहर हैं जबकि साइस्ता परवीन की स्थिति गंभीर बताई जा रही है। इधर घटना का अंजाम देकर मिस्टर फरार हो चुका है। थाना प्रभारी घनश्याम प्रसाद साह ने बताया कि फिलहाल पीड़ित घटना के कारणों का खुलासा करने की स्थिति में नहीं हैं लेकिन जल्द ही मामले का खुलासा कर लिया जाएगा।

Posted By: Jagran