जागरण संवाददाता, चतरा : उपायुक्त जितेंद्र कुमार सिंह ने अधिकारियों को निर्देश दिया है कि प्रवासी मजदूरों को मनरेगा के तहत जॉब कार्ड बनाकर काम उपलब्ध कराएं। डीसी शनिवार को अधिकारियों के साथ बैठक कर रहे थे। उन्होंने कहा कि प्रवासी मजदूरों में बहुत सारे का जॉबकार्ड बना हुआ, वैसे लोगों मनरेगा के तहत काम मुहैया कराएं। इसके लिए उनके घरों पर जाकर उन्हें निमंत्रण पत्र सौंपे और काम के लिए प्रेरित करें। इसके लिए सभी प्रखंड विकास पदाधिकारियों को अभियान चलाने का निर्देश दिया है। उपायुक्त ने कहा कि मनरेगा के तहत एक साथ तीन योजनाओं की शुरूआत की है। इन योजनाओं का अधिक से अधिक क्रियान्वयन कराना है। यहां पर बताते चले कि अब तक करीब तीस हजार प्रवासी मजदूर वापस आए हैं। प्रवासी मजदूरों को वापस लौटने के बाद रोजगार की समस्या उत्पन्न हो गई है। स्थिति को देखते हुए राज्य सरकार ने बिरसा हरित ग्राम योजना, नीलांबर-पीतांबर जल समृद्धि योजना और वीर शहीद पोटो योजना शामिल है। उपायुक्त ने कहा कि इन योजनाओं पर तेज से काम करें। उन्होंने कहा कि मजदूरों को रोजगार मुहैया कराने के लिए अभियान चलाएं। बैठक में उप विकास आयुक्त मुरली मनोहर प्रसाद, जिला ग्रामीण विकास अभिकरण के निदेशक अरुण कुमार एक्का, सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी एवं अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस