संवाद सहयोगी,

इटखोरी : स्थानीय थाना परिसर में रविवार को बैठक का आयोजन किया गया। पुलिस व ग्रामीणों के रिश्तो को प्रगाढ़ करने के उद्देश्य से आयोजित हुई इस बैठक में क्षेत्र के पंचायत प्रतिनिधि तथा प्रबुद्ध ग्रामीण भी शामिल हुए।

बैठक के दौरान थाना प्रभारी सचिन कुमार दास ने उपस्थित लोगों को अपनी कार्यशैली से अवगत कराते हुए कहा कि उनके रहते हुए कोई भी अपराधी अपराध करके बच नहीं पाएगा। जबकि निर्दोष को किसी भी सूरत में नहीं फंसाया जाएगा। थाना में जो भी मामला आएगा उसकी पूरी तहकीकात करने के बाद ही कार्रवाई की जाएगी। थाना प्रभारी ने कहा कि मामूली झड़प के भी कई मामले थाना में अक्सर आते रहते हैं। ऐसे मामलों में पंचायत प्रतिनिधियों तथा प्रबुद्ध लोगों के सहयोग से मामले का निपटारा करने का भी प्रयास किया जाएगा। उन्होंने मॉब लिचिग की घटनाओं को लेकर भी बैठक में उपस्थित लोगों से जागरूकता फैलाने की बात कहीं। थाना प्रभारी ने यह भी कहा कि अगर कोई पुलिसकर्मी निर्दोष व्यक्ति को प्रताड़ित करता है तो इसकी सूचना उन्हें तुरंत उपलब्ध कराएं। बैठक के दौरान जिला परिषद सदस्य दिलीप कुमार साव, प्रखंड प्रमुख गुड़िया देवी, प्रखंड बीस सूत्री अध्यक्ष मृत्युंजय सिंह, उप प्रमुख संतोष साव, मुखिया संघ के अध्यक्ष श्याम प्रसाद सिंह, रामवृक्ष सिंह, महेंद्र पांडेय, सतीश सिंह, मुखिया अमित कुमार सिंह, प्रकाश राम, मुकेश राम, कुसुम देवी, राजेंद्र राम आदि ने थाना प्रभारी को क्षेत्र की समस्याओं से अवगत कराया। इस दौरान बैठक में महाने नदी से बंद किए गए बालू के उठाव पर भी चर्चा हुई।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप