इटखोरी (चतरा), संवाद सूत्र। झारखंड विकास मोर्चा (झाविमो) के टिकट पर चुनाव जीतने के बाद भाजपा में शामिल होने वाले झाविमो के विधायक निश्चित रूप से जेल जाएंगे। भाजपा में शामिल होने वाले सभी विधायकों ने संविधान के खिलाफ जाकर पैसा लेकर भाजपा की सदस्यता ग्रहण की है। ऐसे विधायकों को वर्तमान सरकार बचाने की कोशिश कर रही है। लेकिन सरकार की कोशिशें नाकाम होगी। बिकने वाले विधायकों को हर हाल में जेल जाना पड़ेगा। यह बात शुक्रवार को झाविमो सुप्रीमो बाबूलाल मरांडी ने इटखोरी में हल्ला बोल पोल खोल कार्यक्रम के तहत जनसभा में कही।

उन्होंने कहा कि देश का संविधान इस बात की इजाजत नहीं देता है कि किसी पार्टी के टिकट पर चुनाव जीतने वाला सांसद या विधायक दूसरे पार्टी में शामिल हो जाए। लेकिन ऐसा कुकृत्य झारखंड की वर्तमान सरकार के इशारे पर झाविमो के गणेश गंझु समेत छह विधायकों ने किया है। संवैधानिक तरीके से पार्टी इसकी लड़ाई लड़ रही है। लेकिन सरकार के इशारे पर मामले को लटकाया जा रहा है। तारीख पर तारीख दी जा रही है। उन्होंने कहा कि सरकार के संरक्षण के बाद भी बिकने वाले विधायक किसी भी सूरत में नहीं बचेंगे। उन्हें हर हाल में जेल जाना ही पड़ेगा। मरांडी ने अपने संबोधन में वर्तमान केंद्र व राज्य सरकार को जमकर लताड़ा।

उन्होंने दोनों सरकारों की नीतियों की कड़ी आलोचना करते हुए कहा कि 2014 में झूठे आश्वासन देकर केंद्र की मोदी सरकार तथा झारखंड की रघुवर सरकार ने जनता का वोट तो ले लिया, लेकिन सरकार बनाने के बाद जनता के लिए कोई भी काम नहीं किया। केंद्र व राज्य सरकार ने जो नीतियां बनाई, उससे देश व प्रदेश की जनता को नुकसान ही उठाना पड़ा। उन्होंने कहा कि केंद्र व राज्य सरकार पूंजीपतियों के इशारे पर काम कर रही है। लड़ाकू विमान राफेल में बड़ा घोटाला हुआ है, जिसका सीधा लाभ भाजपा तथा पूंजीपति अनिल अंबानी को मिला है।

मरांडी ने झारखंड की वर्तमान सरकार की जमकर आलोचना की। उन्होंने कहा कि कुर्सी पर बैठने के बाद रघुवर दास ने 11 लाख गरीबों का राशन कार्ड रद करवा दिया। चार साल तक यह सरकार सिर्फ डोभा खोदने में ही लगी रही।

झाविमो के केंद्रीय महासचिव खालिद खलील ने कहा कि झारखंड का विकास बाबूलाल मरांडी के मुख्यमंत्री बनने के बाद ही संभव है। 28 माह के मुख्यमंत्री काल के दौरान मरांडी ने प्रदेश का समुचित विकास किया। उसके बाद जितने भी मुख्यमंत्री बने सबों ने जनता को ठगने का ही सिर्फ काम किया। केंद्रीय महासचिव ने उपस्थित लोगों से आग्रह किया कि आने वाले लोकसभा तथा विधानसभा चुनाव में मरांडी के हाथों को मजबूत करें। तभी इस प्रदेश का भला हो पाएगा। उन्होंने सिमरिया के वर्तमान विधायक गणेश गंझू की भी कड़ी आलोचना की। कहा कि सिमरिया की जनता ने गणेश गंझू को नहीं बल्कि बाबूलाल मरांडी के चेहरे को वोट दिया था। लेकिन सिमरिया के वर्तमान विधायक ने झाविमो के साथ सिमरिया की जनता को भी धोखा देने का काम किया।

पार्टी के केंद्रीय प्रवक्ता योगेंद्र प्रताप सिंह ने कहा कि झारखंड गठन होने के बाद भी इस प्रदेश में दूसरे प्रदेश के नेताओं का वर्चस्व कायम है। जिसे हर हाल में इस राज्य की जनता को तोड़ना होगा। तभी प्रदेश का भला होगा। उन्होंने उपस्थित लोगों से आह्वान किया कि आने वाले लोकसभा तथा विधानसभा चुनाव में किसी भी सूरत में बाहरी उम्मीदवारों को वोट ना दें।

पूर्व मंत्री सत्यानंद भोक्ता ने कहा कि केंद्र व राज्य सरकार ने चतरा में कोई भी विकास कार्य नहीं किया है। दोनों सरकारें सिर्फ घोषणा की सरकार साबित हुई है। ऐसी सरकार को जनता हर हाल में उखाड़ फेंकेगी।

पार्टी के केंद्रीय कार्यसमिति सदस्य रामदेव सिंह भोक्ता ने कहा कि आने वाले लोकसभा तथा विधानसभा के चुनाव में चतरा तथा सिमरिया की जनता ने मन बना लिया है कि इस बार किसी भी सूरत में बाहरी उम्मीदवार जीतकर नहीं जाएगा। झारखंड विकास मोर्चा फिर से यहां जीत का परचम लहराएगी। हल्ला बोल पोल खोल कार्यक्रम की अध्यक्षता प्रखंड अध्यक्ष सतीश सिंह ने की। इस मौके पर पार्टी के जिला अध्यक्ष तिलेश्वर पासवान, पूर्व जिला अध्यक्ष बालेश्वर यादव, बाल गोविंद राम, छठू सिंह भोक्ता, सुशील वर्मा, सिंधु सिंह, जितेंद्र सिंह, प्रखंड प्रमुख गुड़िया देवी आदि उपस्थित थे। 

Posted By: Sachin Mishra