संवाद सहयोगी, सुरही (बेरमो) : माओवाद की राह छोड़कर मुख्यधारा में लौट चुके नावाडीह प्रखंड के ऊपरघाट स्थित बरई पंचायत के लरैया ग्राम निवासी पूर्व नक्सली हीरामन गंझू को मां के श्राद्धकर्म के लिए पेंक-नारायणपुर थाना प्रभारी अरुण कुमार शर्मा ने शनिवार को खाद्यान्न दिया। थानेदार ने उन्हें एक बोरी चावल, एक बोरी आटा व अन्य खाद्य सामग्री दी, ताकि वे अपनी दिवंगत मां का श्राद्धकर्म कर सकें। थाना प्रभारी ने उन्हें खाद्यान्न नावाडीह प्रखंड आजसू के संगठन सचिव दीपू अग्रवाल की पहल पर दी। थाना प्रभारी शर्मा ने बताया कि लरैया ग्राम निवासी हीरामन गंझू पूर्व में भाकपा माओवादी संगठन से जुड़ा हुआ था। सूबे के प्रथम मुख्यमंत्री बाबूलाल मरांडी एवं पूर्व ऊर्जा मंत्री लालचंद महतो के समक्ष भूषण उच्च विद्यालय नावाडीह के परिसर में आत्मसमर्पण कर मुख्यधारा से लौट आया था। उसके बाद जेल से रिहा होने पर वे दिहाड़ी मजदूरी कर अपने परिवार का भरण-पोषण कर रहे हैं। उनकी मां बढ़नी देवी के निधन के बाद आर्थिक तंगी के कारण श्राद्धकर्म में कठिनाई होने की सूचना मिलने पर पेंक-नारायणपुर थाना परिवार की ओर से खाद्यान्न देकर मदद की गई। मौके पर पेंक-नारायणपुर थाना के अवर निरीक्षक उज्ज्वल पांडेय व सुमन कुमार भी उपस्थित थे।

Edited By: Jagran