संवाद सहयोगी, करगली (बेरमो) : एक नशेड़ी ने लोहे के राड से वार कर अपने मंझले भाई को मार डाला। घटना मंगलवार शाम लगभग आठ बजे बेरमो अनुमंडल के चंद्रपुरा थाना क्षेत्र के मकोली स्थित नवधा धौड़ा के क्वार्टर नंबर-633 में घटी। सीसीएलकर्मी घासी यादव के 20 वर्षीय बड़े पुत्र राहुल यादव ने जब अपने 18 वर्षीय दिव्यांग मंझले भाई रोहित यादव को राड से सिर व चेहरे पर प्रहार कर मौत के घाट उतार दिया, तब कालोनी के लोगों ने राहुल को पकड़कर एक कमरे में बंद कर दिया था। पुलिस ने रात लगभग 10 बजे पहुंचकर उसे गिरफ्तार कर लिया।

--बीच-बचाव करने पर मां पर भी करना चाहा प्रहार : जब राहुल राड से अपने भाई रोहित पर प्रहार कर रहा था, तब उसकी मां किचन में खाना खा रही थीं। जबकि 11 वर्षीय बहन आरती एवं 13 वर्षीय छोटा भाई लालू यादव घर से बाहर खेल रहे थे। रोहित की चीख-पुकार सुनकर मां ने पहुंचकर बीच-बचाव करने का प्रयास किया था, लेकिन राहुल ने जब उन पर भी राड से प्रहार करना चाहा तो भागकर बाहर निकलीं और चिल्लाकर पड़ोसियों को मदद के लिए बुलाया। पास-पड़ोस के लोग जब पहुंचे, तबतक रोहित दम तोड़ चुका था। उसके बावजूद राहुल उस पर राड से प्रहार कर रहा था। लोगों ने राड छीनकर उसे एक कमरे में बंद कर दिया।

--नशे की लत के कारण बिगड़ गया मानसिक संतुलन : पड़ोसियों ने बताया कि नशे की लत के कारण राहुल का मानसिक संतुलन बिगड़ गया है। वह गांजा व भांग के साथ ही डेंडराइट सुलेशन से भी नशा करता रहा है। बीते शुक्रवार को उसे उपचार के लिए सीसीएल के केंद्रीय अस्पताल ढोरी में भर्ती कराया गया था, जहां से वह शनिवार को तड़के भाग गया था। रविवार की देर शाम सदर अस्पताल बोकारो से सूचना आई कि राहुल सड़क दुर्घटना से घायल होकर अस्पताल पहुंचा है। उसके एक हाथ की हड्डी फ्रैक्चर हो गई है और शरीर में भी चोट लगी है। तब स्वजन सदर अस्पताल जाकर राहुल को अपने साथ मकोली ले आए थे। सोमवार को केंद्रीय अस्पताल ढोरी में उसके एक हाथ में कच्चा प्लास्टर लगाया गया। उसके पिता सीसीएल की इंक्लाइन में कार्यरत हैं।

Edited By: Jagran