बोकारो : तेज ध्वनि में लाउडस्पीकर और डीजे बजाने वाले व्यक्ति के खिलाफ सख्त कानूनी कार्रवाई की जाएगी। इस संबंध में उपायुक्त मुकेश कुमार की ओर से आदेश जारी किया गया है। अब ऐसी गैर जिम्मेदाराना हरकत करने वाले बख्शे नहीं जाएंगे। उपायुक्त ने कहा कि प्राय: ऐसा देखा जा रहा है कि शहर के विभिन्न स्थानों जैसे वैवाहिक कार्यक्रम, होटलों, क्लबों, पिकनिक स्थलों आदि जगहों पर तेज ध्वनि में लाउडस्पीकर और डीजे बजाया जाता है। अत्यंत तेज ध्वनि के कारण ध्वनि प्रदूषण तो होता ही है, साथ ही मानव शरीर पर शारीरिक और मानसिक दोनों प्रकार के हानिकारक दुष्प्रभाव पड़ते हैं। जिसे हर हाल में रोकने की आवश्यकता है। वन, पर्यावरण एवं जलवायु परिवर्तन मंत्रालय के अनुसार औद्योगिक कार्यकलापों, निर्माण कार्यकलापों, जनरेटर सेट, लाउडस्पीकरों, सार्वजनिक संबोधन प्रणालियों, म्युजिक सिस्टम, वाहनों के हॉर्न एवं अन्य यांत्रिक उपकरणों से पैदा होने वाले तेज ध्वनि के कारण सार्वजनिक स्थलों पर बढ़ता परिवेश शोर, अस्पताल, शिक्षण संस्थानों एवं न्यायालय के कार्यों में व्यवधान उत्पन्न करता है। इसके बाबत माननीय सर्वोच्च न्यायालय, नई दिल्ली के द्वारा तेज ध्वनि में लाउडस्पीकर और डीजे बजाने वालों के विरुद्ध सख्त कानूनी कार्रवाई करने का आदेश पारित किया गया।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस