बोकारो : स्टील अथॉरिटी ऑफ इंडिया लिमिटेड (सेल) में काम करने वाले अधिकारी-कर्मचारी अब कंपनी की सेवा में रहते अपने निजी कार्यो को भी पूरा कर सकते हैं। इस बाबत सेल मुख्यालय ने अधिसूचना जारी कर दी है। योजना का लाभ लेने के लिए संयंत्रकर्मियों को विश्राम अवकाश की सुविधा दी जाएगी। जहां इस मद में उन्हें तीन साल का समय दिया जाएगा। इस दौरान सेलकर्मियों को पदोन्नति व किसी प्रकार का वित्तीय लाभ सेल प्रबंधन की ओर से नहीं दिया जाएगा। योजना को बोकारो इस्पात संयंत्र समेत सेल के सभी इकाई में तत्काल प्रभावी कर दी गई है। बोकारो इस्पात संयंत्र समेत कंपनी के विभिन्न इकाई में कई ऐसे संयंत्रकर्मी है जो कि उच्च शिक्षा, मेडिकल जांच व अन्य निजी कारणों से लंबे अवकाश की मांग सेल प्रबंधन से करते आ रहे है। लेकिन उनके वार्षिक अवकाश की संख्या कम होने के चलते वे इस सुविधा से वंचित रह जाते थे। इसके समाधान के लिए प्रबंधन ने कंपनी में विश्राम अवकाश योजना की शुरुआत की है। विश्राम अवकाश में रहते संयंत्रकर्मियों के आवास व मेडिकल जांच की सुविधा तीन साल के लिए यथावत बरकरार रहेगी।

------------

- योजना के तहत लागू नियम व शर्त

-इसके हकदार वैसे सेलकर्मी ही होंगे जिनकी सेवा कंपनी में 10 वर्ष पूरी हो

-उनके उपर कंपनी का कोई ऋण बकाया नहीं होना चाहिए।

-मासिक वेतनमान के साथ ग्रेच्युटी व पीएफ की राशि पर भी रोक लगा दी जाएगी।

-किसी प्रकार का चुनाव भी अवकाश में नही लड़ सकते है।

- अवकाश के बाद सेल में पुन: उनके अंतिम पद व अंतिम वेतनमान पर ही योगदान देना होगा।

-नए पदनाम व नए ग्रेड के लिए दावा प्रबंधन के समक्ष नहीं कर सकते हैं।

- अवकाश में यदि की मृत्यु हो जाती है तो उनके आश्रित परिजन को नियोजन व वित्तीय सुविधा का लाभ दिया जाएगा।

-कर्मचारियों को योजना का लाभ लेने के लिए उनके संबंधित कार्मिक विभाग व विभागाध्यक्ष की अनुमति आवश्यक है।

-सेल अध्यक्ष को अधिकार होगा किे किसी अधिकारी के विश्राम अवकाश योजना का विस्तार अथवा उसे निरस्त कर सकते हैं।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस