बोकारो:

स्टील अथॉरिटी ऑफ इंडिया लिमिटेड (सेल) कामगारों के डीए में पहली अप्रैल 2018 से 0.1 फीसद की बढ़ोतरी की गई है। जबकि अधिकारियों के महंगाई भत्ता में 0.3 फीसद का इजाफा किया गया है। सेल मुख्यालय ने देर रात इसकी आधिकारिक घोषणा कर दी है। बढ़ी हुई दर के बाद कर्मियों का महंगाई भत्ता 44.8 से बढ़कर 44.9 फीसद हो गया है। सेल प्रबंधन प्रत्येक तीन माह पर अपने कर्मियों को महंगाई दर व कंपनी के वित्तीय हालात के आधार पर डीए का लाभ उन्हें देती आ रही है। इनमें अनाधिशासी व अधिशासी का अलग-अलग डीए होता है।

बताया जाता है कि इस तिमाही खाद्य-पदार्थ समेत दैनिक उपयोग की अन्य वस्तुओं की कीमतों में कमी के कारण सेलकर्मियों के महंगाई भत्ते में मामूली बढ़ोतरी की जा रही है। अधिशासियों के मामले में उनका डीए 126.9 फीसद से बढ़कर अब 127.2 फीसद हो गया है। योजना से संबंधित आदेश जारी होने के बाद नई दर को एक अप्रैल 2018 से बोकारो इस्पात संयंत्र समेत सेल की सभी इकाइयों में लागू कर दी गई है। संयंत्रकर्मियों को बढ़ी हुई राशि की जानकारी उनके मासिक वेतन पर्ची से प्राप्त होगी। --------------

किसकी कितनी बढ़ेगी राशि :

सेल कर्मियों के महंगाई भत्ते में इजाफा होने के बाद अनाधिशासी संवर्ग में एस-1 ग्रेड को न्यूनतम 16 रुपये व एस-11 ग्रेड को 43 रुपये का फायदा प्रतिमाह होगा। इसी प्रकार अधिकारी संवर्ग में कनीय प्रबंधक (ई-1) को 73 रुपये व (ई-8) महाप्रबंधक को तीन सौ रुपये से ज्यादा का लाभ दिया जाएगा।

बता दें कि पिछले कुछ वर्षो से सेल की वित्तीय स्थिति खराब होने के कारण यहां के कर्मियों के महंगाई भत्ते में मामूली वृद्धि की जा रही है। जिससे उनमें काफी निराशा है। संयंत्रकर्मियों का कहना है कि, जब कंपनी घाटे से उबरकर मुनाफे की ओर बढ़ रही है तो ऐसे में उन्हें केंद्रीय कर्मियों की तर्ज पर महंगाई भत्ते का लाभ दिया जाना चाहिए।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस