बोकारो: बालीडीह थाना इलाके के कोड़ाडीह बस्ती में गुरुवार की सुबह 32 वर्षीय बलराम उर्फ मनोज का शव पुलिस ने कुएं से बरामद किया। मनोज के घर से सौ मीटर दूर यह कुआं है। मृतक की बहन मधु ने अपने भाई के चार शराबी दोस्तों पर हत्या कर शव को कुएं में फेंकने का आरोप जड़ा। पुलिस ने मधु के बयान पर हत्या की प्राथमिकी दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। दर्ज रिपोर्ट में शिवपुरी कॉलोनी निवासी राज कुमार सिंह, कोड़ाडीह निवासी रतिलाल सिंह, लखन सिंह और मेढ़क को नामजद किया गया है। स्वजनों की मांग पर मौके पर खोजी कुत्ते को भी पुलिस ने बुलाया। कुत्ता घर से कुआं तक गया और रुक गया। पुलिस को बलराम के शरीर पर चोट के निशान नहीं मिले। पुलिस को शव की पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने का इंतजार है। मृतक की बहन मधु कुमारी ने बताया कि उसका बड़ा भाई बलराम मजदूरी करता था। उसकी शादी अभी नहीं हुई थी। मजदूरी से मिलने वाले अधिकतर रुपयों से वह शराब पीकर इधर-उधर घूमता रहता था। 20 जुलाई की रात 11 बजे भाई शराब पीकर अपने दोस्त राज कुमार, रतिलाल सिंह, लखन सिंह, और मेढक के साथ आया। दरवाजा खोलने के लिए कहा तो वह बाहर निकली। घर के अंदर भाई नहीं आया, बल्कि अपने इन्हीं चार दोस्तों के साथ वह नीचे बस्ती में शराब पीने के लिए चला गया। सुबह तक भाई वापस नहीं लौटा। अपने स्तर से वह घर वालों के साथ भाई को काफी खोजी, लेकिन उसके बारे में कोई जानकारी नहीं मिल सकी। पुलिस के पास वह लोग शिकायत लेकर नहीं गए। इधर, गुरुवार को घर से कुछ दूर स्थित कुआं में भाई का शव मिला। मधु ने भाई के उन्हीं चार दोस्तों पर हत्या कर शव फेंकने की आशंका जताई, जिसके साथ वह लोग 20 जुलाई की देर शाम घर आए थे। वर्जन: पुलिस स्वजनों के बयान पर कानूनी कार्रवाई कर रही है। शरीर पर चोट के निशान नहीं मिले हैं। पुलिस को पोस्टमार्टम रिपोर्ट का भी इंतजार है।

मुकेश कुमार, मुख्यालय डीएसपी।