ललपनिया (बेरमो) : गोमिया प्रखंड के ललपनिया स्थित झारखंड सरकार का एक मात्र महत्वाकांक्षी विद्युत संयंत्र तेनुघाट थर्मल पावर स्टेशन (टीटीपीएस) में कोयला संकट गहराने लगा है। परियोजना में मात्र दो दिन का कोयला बचा है, समय रहते सीसीएल कोयला आपूर्ति सुचारू रूप से नहीं करती तो परियोजना से विद्युत उत्पादन ठप हो जाएगा। कोयले के संकट को देखते हुए टीवीएनएल (तेनुघाट विद्युत निगम लिमिटेड) के एमडी सह टीटीपीएस महाप्रबंधक अनिल कुमार शर्मा ने 13 जुलाई 21 को सीसीएल मुख्यालय दरभंगा हाउस रांची को पत्र लिखकर कम से कम एक रैक प्रतिदिन कोयले के आपूर्ति की मांग की थी, लेकिन सीसीएल प्रबंधन का कहना है कि जितना पैसा मिलेगा, उतना ही कोयला दिया जाएगा। बताते चलें कि टीवीएनएल के पास कोयला आपूर्ति के एवज में करीब 900 करोड़ रुपये से अधिक बकाया है। बकाया राशि का भुगतान नहीं होने पर सीसीएल टीवीएनएल को अप्रैल माह से कोयला देना बंद कर दिया था, जिससे टीटीपीएस परियोजना की एक यूनिट करीब दो माह तक बंद थी। जबकि दूसरी यूनिट में क्षमता से कम बिजली उत्पादन किया जा रहा था। जब टीवीएनएल ने सीसीएल को जून में 50 करोड़ का भुगतान किया तो कोयला आपूर्ति शुरू हुई। आपूर्ति शुरू करने से पहले सीसीएल ने शर्त रखी थी कि टीवीएनएल जितनी अग्रिम राशि का भुगतान प्रत्येक माह करेगा, उसी के हिसाब से कोयला दिया जाएगा। टीवीएनएल की तरफ से भुगतान नहीं होने पर कोयला आपूर्ति सुचारू रूप से नहीं हो पा रही है, जिस कारण टीटीपीएस परियोजना बंद होने की कगार पर पहुंच गई है। मालूम हो कि टीवीएनएल के टीटीपीएस परियोजना दो यूनिट 420 मेगावाट क्षमता वाला प्लांट है। दोनों यूनिट को चलाने के लिए करीब साढ़े सात हजार मीट्रिक टन कोयला की खपत प्रतिदिन है।

टीवीएनएल का जेबीवीएनएल के पास 4750 करोड़ रुपये बकाया : टीटीपीएस अपने दोनों यूनिट से उत्पादित बिजली झारखंड विद्युत वितरण निगम लिमिटेड (जेबीवीएनएल) को सप्लाई करता है। जेबीवीएनएल को सप्लाई की जाने वाली बिजली के एवज में टीवीएनएल का करीब 4750 करोड़ रुपये बकाया हो गया। विभागीय सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार टीवीएनएल जेबीवीएनएल को प्रतिमाह 60 करोड़ रुपये की बिजली देता है। इसके एवज में जेबीवीएनएल केवल 30 से 35 करोड़ रुपये का भुगतान करती है, जिसका परिणाम यह है कि जेबीवीएनएल पर 4750 करोड़ रुपये बकाया हो गया है।

तेविमयू ने मुख्यमंत्री सह ऊर्जा मंत्री को लिखा पत्र :

टीटीपीएस ललपनिया में आए कोयला संकट को देखते हुए तेनुघाट विद्युत मजदूर यूनियन (तेविमयू) के महामंत्री बबुली सोरेन ने मुख्यमंत्री सह ऊर्जा मंत्री हेमंत सोरेन को गुरुवार को एक पत्र लिख कोयला संकट दूर करने की मांग की है। पत्र के माध्यम से सोरेन ने मुख्यमंत्री से कहा है कि परियोजना में मात्र दो दिन का कोयला शेष बचा है। यदि सरकार इसपर अविलंब पहल नहीं किया तो परियोजना को बंद होने से नहीं बचाया जा सकता है। परियोजना के बंद होने से पूरे राज्य में बिजली संकट उत्पन्न हो जाएगा। पत्र में कहा कि राज्य सरकार सीसीएल पर बकाया रायल्टी मद से राशि का समायोजन कर सकती है। इससे सीसीएल का बकाया भी पूरा हो जाएगा और परियोजना भी बंद होने से बच जाएगा।