बोकारो : बोकारो में सरकारी जमीन की लूट का एक बड़ा गैंग काम कर रहा है। खास कर एनएच-23 किनारे पैसा दीजिए और एनएचएआइ व बोकारो इस्पात प्लांट की जमीन पर घर बनवा लीजिए। गुरुवार सुबह सड़क हादसे में दो लोगों की मौत उसी अतिक्रमण का परिणाम है। सड़क किनारे अवैध निर्माण के चलते बारी को-आपरेटिव की ओर से आने वाले लोगों को एनएच से गुजरने वाले वाहन नजर नहीं आते। हालांकि, एनएचएआइ ने अतिक्रमण को लेकर प्राथमिकी दर्ज कराई है, लेकिन राहगीरों की जान का सौदा कर चुके पुलिस व कतिपय नेता खड़े हो जाते हैं। एनएच किनारे की जमीन जो कि आम लोगों के चलने के लिए एनएचएआइ ने छोड़ी है, उस पर मकान, गोदाम व घर बन गए हैं। यह घर मुफ्त में नहीं मिला है। यहां एक डिसमिल जमीन की कीमत भू-माफिया ने चार से पांच लाख रुपये वसूले हैं। इसके बाद जितने लोगों ने दुकान खोली है, उनमे से कोई रोड पर ड्रम तो कोई रोड पर टाइल्स-ग्रिल सजाकर बेच रहा है। गुरुवार को सुबह दो लोगों की मौत के बाद फिर एक कार व बड़े वाहन की टक्कर हो गई है। हांलाकि, दूसरी घटना में जान नहीं गई। लोगों का कहना है कि यदि अतिक्रमण हटा दिया जाएगा तो दोनों ओर से आने वाले वाहनों को देखने से घटनाएं नहीं होंगी।

---

सड़क पर खड़े होते हैं वाहन :

एनएच का हाल बुरा है। अवैध रूप से बसे लोग सड़कों पर मनमाने ढ़ंग से वाहन खड़ा करते हैं, जिन्हें ट्रैफिक पुलिस का संरक्षण मिला हुआ। स्थिति यह है कि रेलवे फाटक के समीप कांटाघर भी स्थापित हो गया है। जबकि इसे बंद करने का आदेश उपायुक्त की अध्यक्षता में आहूत सड़क सुरक्षा समिति की बैठक में कई बार हो चुका है। पर, अब तक यातयात पुलिस के अधिकारी कुछ भी नहीं कर सके। यही स्थिति कमोवेश बारी-कोआपरेटिव मोड़ व उसके आसपास की हैं यहां पार्किंग वर्जित है पर सैकड़ों वाहन खड़े रहते हैं। जब इस पर एनएचएआइ के अधिकारी टोकने जाते हैं तो उलटे उन्हीं को मारने के लिए खड़े हो जाते हैं।

------------

15 किलोमीटर में 15 कट : एनएचएआइ के मापदंड के अनुसार जहां भी कट हो वहां सड़क चौड़ी होने के साथ स्पीड ब्रेकर तथा लाइट का प्रबंध होना चाहिए। पर ऐसे एक दो स्थानों को छोड़कर कहीं भी नहीं है 15 किलोमीटर की सड़क पर 15 वैध व अवैध कट हैं। चास आइटीआइ मोड़ से टोल प्लाजा तक चौरा बस्ती के पास, तेलीडीह साइड, पिपरटांड़ चौक, आरवीएस कालेज, पुलिस लाइन मोड़, जेएमपी समादेष्टा कार्यालय के सामने, बार को-आपरेटिव, सिवनडीह में दो स्थान, स्टेशन रोड, थानामोड़, बालीडीह थाना के सामने, पेट्रोल पंप, बालीडीह मोड़, गोस्वामी टोला के सामने कट बना हुआ है। मतलब हाइ स्पीड सड़क के लिए टोल का पैसा जमा कीजिए और आपकी गाड़ी 20 किलोमीटर से अधिक तेज नहीं चल सकती है।

-----------

वर्जन

अतिक्रमणकारियों से परेशान है। अब तक चालीस से अधिक प्राथमिकी दर्ज कराई जा चुकी है। दोनों ओर बिजली के खंभा तक जमीन एनएच ने अधिग्रहित किया था। पर कई दुकानदारों ने जबरन कब्जा कर लिया है। कुछ लोगों ने तो मकान तक बना लिया है। इस मामले में प्राथमिकी दर्ज कराई गई है। पर कोई कार्रवाई अब तक नहीं हुई, जहां दुर्घटना हुई है। वहां बोर्ड भी लगा हुआ था दुकानदारों ने बोर्ड तक उखाड़ लिया। लिक सड़क को जोड़ने वाले ठेकेदार ने ब्रेकर तक नहीं बनाया।

मनोज कुमार, प्रबंधक एनएचएआइ