जागरण संवाददाता, बोकारो :

सोमवार को जिला कृषि कार्यालय के सभागार में जिला कृषि पदाधिकारी राजीव कुमार मिश्रा की अध्यक्षता में झारखंड कृषि ऋण माफी योजना को लेकर जिला स्तरीय कार्यशाला का आयोजन किया गया । कार्यशाला में जिला कृषि पदाधिकारी राजीव कुमार मिश्रा ने बताया कि झारखंड सरकार की कृषि ऋण माफी योजना किसानों के लिए एक बेहतर अवसर है। इस योजना का लाभ दिलाने के लिए सभी को साथ मिलकर काम करना होगा । उन्होंने जिले के सभी बीटीएम एवं एटीएम सहित बैंक के प्रतिनिधि को उक्त कार्य की प्राथमिकता देते हुए कार्य करने का निर्देश दिया। साथ ही उन्होंने बताया कि चंद्रपुरा प्रखंड अंतर्गत पांच किसानों का कृषि ऋण बैंक ऑफ इंडिया चंद्रपुरा द्वारा माफ किया गया। इस प्रकार इस योजना की औपचारिक शुरुआत हो चुकी है। जिला कृषि पदाधिकारी राजीव कुमार मिश्रा ने सभी को आपस में समन्वय स्थापित कर कार्यों को गति देने को कहा। उन्होंने सभी कार्यों को तय समय में पूर्ण करने की बात कही । इसमें किसी भी तरह की कोई लापरवाही नहीं हो। ससमय कार्यों के निष्पादन से ही सरकार के इस योजना का उद्देश्य पूरा हो सकेगा।

---------

योजना के सफल क्रियान्वयन में बैंकों की होगी अहम भूमिका :

जिला सूचना पदाधिकारी धनंजय कुमार ने बताया कि योजना के सफल क्रियान्वयन में बैंकों का अहम रोल है। बैंक से डाटा उपलब्ध कराएं जाने पर उसे एनआइसी पोर्टल पर अपलोड किया जाएगा। वहां से संबंधित किसानों को एसएमएस भेजा जाएगा। ताकि वह अपने नजदीक के कामन सर्विंस सेंटर , सीएससी में जाकर एक रुपये का भुगतान कर योजना का लाभ लेने के लिए सहमति दें। उसके बाद एनआइसी पोर्टल से पीडीएस पोर्टल पर लाभुकों का सत्यापन होगा। क्योंकि योजना का लाभ एक परिवार में एक ही सदस्य को मिलना है। वहां जिला कृषि पदाधिकारी द्वारा सत्यापन कर आवेदन की स्वीकृति दी जाएगी। उसके बाद उपायुक्त स्तर पर आवेदन का अनुमोदन कर राज्य स्तर पर राशि भुगतान के लिए अग्रसर किया जाएगा।बैठक के दौरान एलडीएम दिनेश्वर राणा, डीडीएम नाबार्ड फिलमोन बिलुंग, सहित जिले के सभी बीटीएम एवं एटीएम सहित विभिन्न बैंकों के प्रतिनिधि उपस्थित थे ।

Edited By: Jagran