संवाद सहयोगी, किश्तवाड़ : चार दिनों तक हुई बारिश के बाद शनिवार को मौसम थोड़ा साफ होने पर लोगों ने ली राहत की सांस, लेकिन अभी भी कुछ सड़कें बंद होने की वजह से लोग परेशान है। बुधवार से शनिवार सुबह तक किश्तवाड़ तथा उसके आसपास के इलाकों में लगातार बारिश व पहाड़ों पर बर्फबारी हो रही है। इसके कारण इलाके की रफ्तार धीमी पड़ गई है।

बारिश की वजह से ठाकुराई, केशवान, पतीमहल, से इटावा, किश्तवाड़, गुलाबगढ़, सरथल सरुर पारना से बुडसर, गुलाबगढ़ संसारी नाला जैसी कई सड़कें बंद हो गई थी। इनमें से ज्यादातर सड़कों को खोल दिया गया, लेकिन गुलाबगढ़ संसारी नाला की सड़क पर बर्फबारी होने की वजह से उस पर काम चल रहा है। शनिवार को मौसम साफ होने से मशीनों द्वारा मलबा तथा बर्फ हटाने का काम चलता रहा। बटोत किश्तवाड़ की सड़क पर भी शुक्रवार रात को मलबा गिर जाने से सड़क बंद हो गई थी, लेकिन शनिवार सुबह मलबा हटाकर मार्ग पर वाहनों की आवाजाही बहाल कर दी गई। पतिमहल की सड़क की हालत भी दयनीय है। अभी भी वहां पर दलदल बना हुआ है। किश्तवाड़ से गुलाबगढ़ जाने वाली सड़क पर किरु से लेकर लिदरेडी तक बारिश की वजह से दलदल बन चुका है। इसके कारण यहां से गुजरने में वाहन चालकों को परेशानी हो रही है। अब मौसम खुलने पर ही सड़क साफ हो पाएगी। वहीं शनिवार को थोड़ी धूप निकली, लेकिन ठंड में कोई खास फर्क नहीं पड़ा। पूरा इलाका अभी भी ठंड की चपेट में है। इसका मुख्य कारण पहाड़ों पर काफी मात्रा में बर्फबारी है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस