जागरण संवाददाता, ऊधमपुर : मौसम का एक बार फिर करवट बदला और तेज हवा चलने लगी। इस दौरान शहर के साथ ही अन्य क्षेत्रों में भी बिजली आपूर्ति ठप हो गई। आसमान में घने काले बादल इस तरह से छाए कि शाम साढ़े चार बजे ही अंधेरा छा गया। जैसे साढ़े छह बजे के करीब होता है। उसके बाद हल्की बरसात के साथ चली तेज रफ्तार हवा ने तापमान को गिरा कर मौसम को सर्द कर दिया।

कुछ दिन पहले हुई बारिश के बाद से मौसम का मिजाज धीरे धीरे बदलने लगा था। जिस वजह से सुबह और रात के समय हल्की सर्दी का अहसास हो रहा था। रात के समय लोगों को पंखे तक बंद करने पड़ रहे थे और लोग हल्के कंबल लेकर सोने लगे थे।

वीरवार सुबह आसमान साफ होने की वजह से तेज धूप निकली थी। इसके बाद दोपहर को अचानक मौसम ने रंग बदला। आसमान में बादल छाने शुरू हो गए। बाद दोपहर बादल काले घने होते चले गए। शाम साढ़े चार बजे तक बादल इतने घने हो गए थे कि सूरज की रोशनी इन काले घने बादलों के पार पहुंचना बंद हो गई। जिस वजह से अचानक शाम साढ़े चार बजे ही अंधेरा हो गया।

मौसम के करवट बदलने की वजह से दिन में रात सा नजारा होने की वजह से सड़क पर दौड़ने वाले दोपहिया, चौपहिया वाहनों को अपनी लाइट जलानी पड़ी। यहां तक दुकानदारों के साथ लोगों को घरों की लाइट भी जलानी पड़ गई। काफी देर तक मौसम का मिजाज ऐसा ही बना रहा। और कुछ देर बाद बारिश भी हुई। जो रुक रुक कर होती हरी। बारिश और तेज रफ्तार हवा के चलने से मौसम विभाग ने इलाके का अधिकतम तापमान 28.4 डिग्री तथा न्यूनतम 17.1डिग्री सेल्सियस दर्ज किया। मौसम विभाग के मुताबिक आने वाले दिनों में तापमान में गिरावट आती जाएगी और मौसम सर्द होने लगेगा। धूल ने लोगों को किया परेशान

बारिश के बरसने से पहले तक काफी तेज रफ्तार हवा चली। मौसम विभाग ने इस तेज रफ्तार हवा की अधिकतम गति 54 किलोमीटर प्रतिघंटा रिकार्ड की। इतने अधिक वेग से चली हवा के कारण लोगों को परेशानी हुई। हवा के साथ उड़ी धूल मिट्टी ने लोगों को काफी परेशान किया। धूल की वजह से कई बार तो दोपहिया वाहन चालकों को अपने वाहनों को सड़क पर रोकना पड़ गया।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस