जागरण संवाददाता, ऊधमपुर :

बुधवार को बंद रहने के बाद जम्मू श्रीनगर हाईवे श्रीनगर आने जाने वाले ट्रैफिक के लिए खुला। छोटे यात्री वाहन तो दोनों तरफ से चले, मगर भारी मालवाहक वाहनों को जम्मू से श्रीनगर की तरफ जाने की ही अनुमति दी गई।

बुधवार को जम्मू श्रीनगर हाईवे रखरखाव और मरम्मत के लिए बंद रखा गया था। इस दौरान केवल स्थानीय रूटों के वाहन को ही चलने की अनुमति रही, मगर जम्मू से घाटी के बीच चलने वाले वाहनों पर रोक रही। रखरखाव और मरम्मत का काम पूरा होने के बाद हाईवे ट्रैफिक पुलिस को यातायात परिचालन के लिए सौंप दिया गया था। मगर उत्तरी कमान प्रमुख के नेतृत्व में ऊधमपुर से कारगिल के लिए निकली सेना की मोटरसाइकिल रैली के कारण वाहनों को देरी से छोड़ा गया। उत्तरी कमान मुख्यालय से तकरीबन सवा सात बजे निकली मोटरसाइकिल रैली सवा आठ बजे चनैनी स्थित एसपीएम टनल में प्रवेश कर गई। इसके करीब पौने घंटे बाद ऊधमपुर में रोके गए भारी माल वाहक वाहनों और छोटे यात्री वाहनों को घाटी की तरफ रवाना किया गया। इस बारे में डीएसपी ट्रैफिक हिम्मत सिंह ने बताया कि सुबह नौ बजे से छोटे यात्री वाहनों और माल वाहक वाहनों को ऊधमपुर से आगे रवाना कर दिया गया। उन्होंने हाईवे बंद रहने के दौरान करीब 800 वाहन ऊधमपुर में रुके थे। इनके रवाना होने के साथ जम्मू से छोड़े गए वाहन भी ऊधमपुर पहुंचे और उनको भी आगे रवाना कर दिया गया। तोल्ड़ी नाला में सड़क खराब होने की वजह से बीच बीच में जाम की स्थिति बनती रही। मगर जल्दी ही जाम को खुलवा कर यातायात बहाल किया जाता रहा।