जागरण संवाददाता, ऊधमपुर : खराब मौसम की मार ने शुक्रवार को जम्मू-श्रीनगर हाईवे पर यातायात को बुरी तरह प्रभावित किया। जम्मू-श्रीनगर हाईवे पर जाम की वजह से धार रोड पर भी भारी जाम रहा, जिससे लोगों को परेशानी हुई।

जम्मू-श्रीनगर हाईवे पर भारी वाहनों के ट्रैफिक के लिए एक दिन श्रीनगर से जम्मू (डॉउन) और एक दिन जम्मू से श्रीनगर (अप) ट्रैफिक के लिए बारी-बारी खुला रहता है। जबकि छोटे यात्री वाहनों के लिए हर दिन दोनों तरफ के लिए खुला रहता है। शुक्रवार को अप ट्रैफिक की बारी थी, जिसके चलते रात को भारी माल वाहक वाहनों को छोड़ दिया गया। वाहनों को छोड़ने के कुछ ही देर बाद भारी बारिश शुरू हो गई। इसके बावजूद यातायात चलता रहा। मगर हजारों की संख्या में वाहनों के छोड़े जाने से चिनैनी-नाशरी टनल पर पर्ची कटवाने के लिए वाहनों की लंबी कतार लगनी शुरू हो गई, जिससे चिनैनी क्षेत्र में जाम लगना शुरू हो गया। जिस वजह से ट्रकों को पीछे ही रोक दिया गया। इससे काफी देर हाईवे पर जाम लगा रहा। इसके बाद चिनैनी-नाशरी सुरंग के टोल प्लाजा पर स्थिति सामान्य होने पर वाहनों को फिर से छोड़ा गया।

इसी बीच साढ़े नौ बजे के करीब हाईवे पर रामबन जिला के डिगडोल इलाके में मार्केट से कुछ दूरी पर यात्री शेड के पास भारी भूस्खलन हो गया, जिससे हाईवे बंद हो गया। इस वजह से हाईवे पर वाहनों की रफ्तार थम गई। हाईवे बंद होने पर रामबन के दोनों तरफ तकरीबन साढ़े तीन हजार वाहन फंस गए। मलबा हटाने के बाद दोपहर ढाई बजे हाईवे को यातायात के लिए फिर से खोला गया। जिसके बाद रात आठ बजे तक 2500 के करीब वाहनों को जम्मू की तरफ रवाना किया गया और 1500 वाहनों को घाटी की तरफ निकाला गया। रात आठ बजे तक रामबन बाजार तक सभी वाहनों को निकाल दिया गया। मगर इससे हाईवे पर ऊधमपुर तक जाम लगा रहा। हाईवे पर लगे जाम की वजह से ऊधमपुर में धार रोड पर भी आवागमन प्रभावित हुआ।

मालवाहक वाहन धार रोड से भी आते हैं और फिर ऊधमपुर के गोल मेला इलाके से हाईवे फोरलेन की तरफ मुड़ते हैं, मगर हाईवे बंद होने से धार रोड पर गोल मेला से पीछे बड़ी संख्या में ट्रक फंस गए। इससे सतैनी, एयरफोर्स स्टेशन, मिया बाग, जगानू मोड़, जगानू, रौंदोमेल इलाकों से आने-जाने वाले लोगों को काफी परेशानी हुई। जाम की वजह से लोगों को घटों फंस कर परेशान होना पड़ा।

इस बारे में डीटीआइ ऊधमपुर हरमोहिंद्र सिंह ने बताया कि रात को बारिश और सुबह हाईवे पर रामबन में भूस्खलन होने की वजह से जाम की समस्या हुई। रात नौ बजे हाईवे पर वाहनों को आगे की तरफ निकलना शुरू हो गया।

वहीं, रामबन के डीएसपी ट्रैफिक सुरेश शर्मा ने बताया कि सुबह भूस्खलन से गिरे मलबे की वजह से हाईवे बंद हुआ था। दोपहर ढाई बजे मलबा हटने के बाद इसे खोल दिया गया। रात आठ बजे तक रामबन बाजार तक जाम को क्लीयर कर दिया गया। सब कुछ ठीक रहा तो मध्यरात्रि तक यातायात सामान्य हो जाएगा।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप