संवाद सहयोगी, पौनी : कस्बे के हायर सेकेंडरी स्कूल पौनी में लेक्चरर्स नहीं होने के कारण विद्यार्थियों की पढ़ाई पर काफी असर पड़ रहा है, जिसे लेकर मंगलवार को ग्याहरवीं और बारहवीं कक्षा में पढ़ने वाले विद्यार्थियों ने पौनी बाजार के मुख्य चौक पर धरना-प्रदर्शन किया।

विद्यार्थियों का कहना था कि पिछले एक साल से स्कूल में लेक्चरर्स के खाली पड़े पदों को भरने के लिए कोई ठोस कदम नहीं उठाया जा रहा है। लेक्चरर्स की कमी के चलते उनकी पढ़ाई प्रभावित हो रही है, जिसका खामियाजा उन्हें परीक्षा परिणाम में भुगतना पड़ सकता है। स्कूल में मौजूदा समय में अंग्रेजी, बॉटनी, हिंदी और कामर्स के लेक्चरर्स नहीं हैं। विद्यार्थियों के प्रदर्शन की सूचना मिलते ही तहसीलदार पौनी लेखराज व एसएचओ पौनी सुमित शर्मा भी मौके पर पहुंचे। उन्होंने विद्यार्थियों से सात दिन में लेक्चरर्स के खाली पद भरने का आश्वासन देकर प्रदर्शन को समाप्त कराया। प्रदर्शन में शमिल खासकर छात्राओं ने बताया कि उनकी कोई नहीं सुन रहा है। वे पिछले एक साल से लेक्चरर्स नहीं होने के कारण परेशान हैं। डिवीजनल कमिश्नर जम्मू, डीसी रियासी, सीईओ रियासी को लेक्चरर्स नहीं होने के बारे में अवगत कराया है, लेकिन उनकी समस्या हल नहीं की जा रही है। विद्यार्थियों ने कहा कि अगर सोमवार तक स्कूल में लेक्चरर्स नहीं आए तो वे एक बार फिर से प्रदर्शन करने पर मजबूर हो जाएंगे। दो शिक्षकों को किया गया अटैच

हायर सेकेंडरी स्कूल पौनी में जब तक स्थायी लेक्चरर्स नहीं आते, तब तक कस्बे के आस-पास के स्कूलों से अंग्रेजी और हिदी के शिक्षकों को अटैच कर विद्यार्थियों को पढ़ाया जाएगा, ताकि विद्यार्थियों की पढ़ाई पर कोई असर नहीं पड़ सके। जेडईओ पौनी को दो बेहतर शिक्षा प्रधान करने वाले शिक्षकों को हायर सेकेंडरी स्कूल में भेजने के निर्देश दे दिए गए हैं। इसके अलावा स्कूल पौनी में लेक्चरर्स के खाली पदों को भरने के लिए शिक्षा निदेशक से बात की गई है।

- निर्मल चौधरी, सीईओ रियासी

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस