संवाद सहयोगी, रियासी, पौैनी : पंचायत चुनाव के आठवें व अंतिम चरण के लिए शनिवार को रियासी जिले के 4 ब्लॉक रियासी, कटड़ा, पैंथल और पौनी में कुल 89.83 प्रतिशत मतदान हुआ। 69729 में से 62637 मतदाताओं ने मत डाले। चारों ब्लॉक में मतदान प्रतिशत का सबसे अधिक आंकड़ा रियासी ब्लॉक में रहा । यहां 91.40 प्रतिशत मतदान दर्ज किया गया। रियासी ब्लॉक में 16794 मतदाताओं में से 15349 मतदाताओं ने अपने मत का प्रयोग किया। अंतिम चरण में भी युवाओं से लेकर बुजुर्गो ने मतदान में अपनी भागीदारी निभाई जबकि चल फिरने में असमर्थ कई दिव्यांग अपने परिजनों की पीठ पर चढ़कर मतदान केंद्र पहुंचे और अपने मत का प्रयोग किया। वहीं तहसील पौनी में 23 पंचायतों के लिए मतदान हुआ जो कि 88.36 प्रतिशत रहा।

रियासी जिले में सुबह 8 से 9 बजे पहले 1 घंटे में रियासी ब्लॉक में 8.41 प्रतिशत तो 10 बजे तक 18.53 प्रतिशत मतदान हुआ। इसके बाद सर्दी कुछ कम और धूप खिलने पर मतदान केंद्र पर मतदाताओं की कतारें लगने लगी। इससे मतदान मे तेजी आने लगी। अगले 2 घंटे मे 42 प्रतिशत मतदान से दोपहर 12 बजे तक मतदान का आंकड़ा 62.45 प्रतिशत पहुंच गया। दोपहर 1 बजे तक 78 प्रतिशत और फिर 2 बजे मतदान का अंतिम आंकड़ा 91.41 दर्ज किया गया। उधर पौनी ब्लॉक में 88.36 फीसद मतदान हुआ। मतदान सुबह 8 बजे से शुरू होकर 2 बजे तक चला। तीन बजे वोटों की गिनती हुई।

पंचायत अलेया, त्योट, पोरा कोटला व संगड के सरपंच, पंच उम्मीदवारों ने (हाई स्कूल रनसू) में अपना परिणाम प्राप्त किया। इसके अलावा पंचायत भारख, गजोड, खैरालेड व कोठियां के उम्मीदवारों के नतीजे (हायर सेकेंडरी स्कूल भारख) में घोषित किए गए। पंचायत भांवला, डडोआ, लेतर मगाई व लेतर के उम्मीदवारों के परिणाम (हाई स्कूल लेतर) में निकाले गए।

पंचायत डब खालसा, काना, पौनी व कुंड खनेयाडी के उम्मीदवारों के नतीजे (हायर सेकेंडरी स्कूल पौनी) में निकाले गए। पंचायत कोलसर, माडी व सलून के उम्मीदवारों के परिणाम (हाई स्कूल सलून) में घोषित किए गए। इसी तरह से पंचायत जेडी, खैरल, लोअर तलवाड़ा व अपर तलवाड़ा के उम्मीदवारों के नतीजे (हाई स्कूल खैरल चैत्र) में घोषित किए गए।

-----------

एक सरपंच व 69 पंच निर्विरोध चयनित

पौनी की 23 पंचायतों में मतदान के लिए 189 पो¨लग बूथ बनाए गए थे। पौनी तहसील में कुल पंचायतें 23, पुरुष सरपंच 15, महिला सरपंच 8, जबकि कुल पंच 189, महिला पंच 60 व पुरुष पंच 129 चुने गए हैं।

मतगणना में देरी पर कर्मचारियों का प्रदर्शन

आरओ पौनी द्वारा चार पंचायतों की एक साथ मतगणना शुरु न करने पर अन्य पंचायतों के एआरओ ने स्थानीय प्रशासन के खिलाफ जोरदार नारेबाजी की। उनका आरोप था कि अगर आरओ द्वारा चारों पंचायतों की मतगणना अलग अलग एक स्थान पर शुरू की होती तो नतीजे जल्द घोषित होते, लेकिन जिस तरह से बारी बारी से पंचायत की मतगणना शरू की है इससे देर रात तक लोगों को अपने चहेते उम्मीदवारों के नतीजे का इंतजार करना पड़ेगा। इतना ही नहीं ड्यूटी पर तैनात अन्य कर्मचारियों को भी बिना मतलब की समस्या का सामना करना पड़ रहा है।

बिजली न होने से भी हुई परेशानी

पौनी में मतदान के दौरान कई पो¨लग बूथों पर बिजली न होने पर लोग परेशान हुए। लोगों का आरोप था कि बिजली नहीं होने पर उन्हें अंधेरे में अपने चहेते उम्मीदवार को वोट देने में परेशानी हुई। इसके अलावा मतगणना वाले स्टेशनों पर बिजली नहीं होने पर भी कर्मचारियों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा है।

Posted By: Jagran