संवाद सहयोगी, पौनी : शतकुंडीय अतिविष्णु महायज्ञ को लेकर दूसरे दिन सैकड़ों श्रद्धालुओं ने महाराज की अध्यक्षता में कलश यात्रा निकाली जो मुख्य बाजार, मेन बाजार से होते हुए डब, डडोआ, लेतर, भांवला, भारख, खैरालेड में स्थित पंचवटी मंदिर से होकर वापिस यज्ञशाला में संपन्न हुई। इस मौके पर श्रद्धालु भजन-कीर्तन आदि कर यात्रा की शोभा बढ़ा रहे थे। कई श्रद्धालु डोल नगाड़ों की थाप पर थिरक रहे थे। इस मौके पर संत बालक योगेश्वर दास महाराज ने भक्तों को आशीर्वाद दिया और धार्मिक स्थलों पर माथा टेक यज्ञ के सफलता पूर्वक संपूर्ण होने की कामना की। यज्ञ में पहुंचने वाले हरेक श्रद्धालु को आचार्य बिहारी शास्त्री जी प्रवचन सुना रहे हैं। देर शाम को यज्ञशाला में प्रवेश के बाद मंडप की पूजा की गई। शनिवार सुबह यज्ञशाला में बनाए गए सौ हवन कुड़ों में पूजा कराई जाएगी।

आज के कार्यक्रम

सुबह आठ बजे गुरु दीक्षा

नौ बजे मंडप व देवी देवताओं का पूजन

तीन बजे आरती यज्ञ

छह से नौ बजे रासलीला

रात नौ बजे सत्संग

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस