जुगल मगोत्रा पौनी

आधार शिविर रनसू में लगने वाला तीन दिवसीय महाशिवरात्रि मेला भोले बाबा के भक्तों के लिए यादगार बनता है। मेला आरंभ होने में अभी तीन दिन बाकी हैं, लेकिन श्रद्धालु अभी से काफी संख्या में भोले बाबा के दर्शन करने लिए पहुंचना शुरू हो गए हैं। श्रद्धालु मानते हैं कि आधार शिविर रनसू पहुंचने पर उन्हें 33 करोड़ देवी देवताओं के दर्शन करने को प्राप्त होते हैं। जम्मू से सौ व कटड़ा से साठ किमी की दूरी पर स्थित आधार शिविर रनसू में 3 से 5 पांच मार्च तक महाशिवरात्रि मेला लगने वाला है। श्रद्धालुओं के रहने के लिए बनाए गए रेस्तरां, हॉस्टल, गेस्ट हाउस की एक माह पहले से ही बुकिग हो चुकी है। भगवान शंकर के दर्शन के लिए आने वाले श्रद्धालुओं को किसी तरह की कोई परेशानी न हो, इसके लिए स्थानीय प्रशासन की तरफ से व्यापक प्रबंध किए गए हैं। शिवखोड़ी में भोले शंकर की ऐसी कृपा है कि यहां की खूबसूरती को देख हरेक श्रद्धालु का मन मोह जाता है। मुख्यद्वार से लेकर गुफा तक मजदूरों को लगाकर यात्रा मार्ग को सजाने का काम लगभग पूरा हो चुका है। रनसू इलाका सरकार की तरफ से पर्यटन में विकसित किया जा रहा है, जिससे यहां के स्थानीय बेरोजगार युवकों को श्राइन बोर्ड में रोजगार उपलब्ध हुआ बल्कि उपजाऊ जमीनों का धाम भी इतना ज्यादा बढ़ गया कि लोग रातोंरात अमीरी के सपने देखने लगे हैं। शिवखोड़ी श्राइन बोर्ड बनने पर इलाके के करीब दो हजार घोड़ा, पालकी, पिट्ठू मजदूरों को अपनी दो वक्त की रोजी-रोटी कमाने के लिए रोजगार का साधन उपलब्ध हुआ है। मेहनत मजदूरी करने वाले इन लोगों को खासकर शिवरात्रि पर श्रद्धालुओं की संख्या में बढ़ातरी होने पर आमद के साधन बढ़ने की उम्मीद रहती है, लेकिन प्रशासन द्वारा यात्रा मार्ग पर श्रद्धालुओं की संख्या अधिक होने पर तीन दिन तक घोड़ों पर श्रद्धालुओं को ढोने का काम बंद रखा जाता है। वीवीआईपी लोगों के लिए अनुमति प्राप्त करने के बाद यह सुविधा उपलब्ध कराई जा सकती है।

सड़क के गढ्डे भी होंगे ठीक

रनसू में लगने वाले तीन दिवसीस शिवरात्रि मेले से पहले सड़क पर पड़े गढडों को ठीक करने की मांग की गई है। पौनी से लेकर रनसू तक सड़क पर कई जगहों पर गडढे बने हुए है, जिससे यात्री वाहन चालकों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।

यात्रा मार्ग पर मिलेगी भक्तों को गुफा की जानकारी

भोले बाबा के दर्शन करने के लिए आने वाले श्रद्धालुओं को गुफा में कार्यक्रम एवं अन्य प्रकार की जानकारी प्राप्त करने में कोई दिक्कत नहीं होगी। भक्तों को गुफा में होने वाले प्रत्येक कार्यक्रम की यात्रा मार्ग एवं रनसू बाजार में लाउड स्पीकर के माध्यम से पल-पल की जानकारी प्राप्त होती रहेगी। इससे दर्शन आने-जाने वाले भक्तों को किसी प्रकार की कोई परेशानी नहीं होगी।

आरती का होगा सीधा प्रसारण

लाउड स्पीकर के माध्यम से महाशिवरात्रि पर गुफा में प्रसारित होने वाली आरती के सीधे प्रसारण को लेकर भी भक्तों को समय समय पर जानकारी दी जाएगी।

बस स्टेंड से आगे वाहन ले जाने में होगी मनाही

महाशिवरात्रि मेले में रनसू में पहुंचने वाले सभी यात्री वाहनों को बस स्टेंड से आगे वाहन ले जाने में मनाही होगी। श्रद्धालु बस स्टेंड से रनसू तक एक किमी पैदल ही आगे बढ़ेंगे। श्रद्धालुओं की व्यवस्था को लेकर प्रशासन द्वारा बस स्टेंड से रनसू बाजार तक एक किमी हर संभव सुविधा मुहैया कराई जाएगी। मेले को लेकर सुरक्षा के कड़े प्रबंध होंगे। जिला पुलिस और सीआरपीएफ के जवान चप्पे-चप्पे पर तैनात किए होंगे। एसएचओ रनसू द्वारा यात्रा के लिए आने वाले प्रत्येक श्रद्धालु पर पैनी नजर रखी जा रही है। रनसू में भगवान शिव शंकर की कृपा है। इससे श्रद्धालुओं और लोगों में काफी आस्था है। जब से शिवखोड़ी श्राइन बोर्ड बना है तब से अब तक लाखों श्रद्धालु भोले बाबा के दर्शन कर चुके हैं। विकास को लेकर भी प्रशासन द्वारा हर संभव प्रयास किए जा रहे हैं। शिवरात्रि पर्व पर श्रद्धालुओं की संख्या में बढ़ोतरी होती है।

अशोक कुमार, नायब तहसीलदार रनसू

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस